October 2019

हाल ही में श्रीलंका और ऑस्ट्रेलिया के बीच ब्रिस्बेन में दूसरा T20 मैच खेला गया। आपको पता होगा कि वर्तमान में ऑस्ट्रेलिया और श्रीलंका के बीच t20 सीरीज खेली जा रही है। दूसरे टी-20 मैच में ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ी ग्लेन मैक्सवेल को बल्लेबाजी करने का मौका नहीं मिला। हर किसी को यह जानकर काफी हैरानी हो रही है कि ग्लेन मैक्सवेल मानसिक रूप से बीमार है। इसी कारण ग्लेन मैक्सवेल ने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से ब्रेक ले लिया है।


साइकोलॉजिस्ट माइकल लॉयड ने इस बात की पुष्टि कर दी है कि ग्लेन मैक्सवेल मानसिक रूप से बीमार है। माइकल लॉयड ने कहा ग्लेन मैक्सवेल को दिमाग की स्थिति को लेकर काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। खुद मैक्सवेल ने यह बात स्वीकार की कि वह क्रिकेट से ब्रेक ले रहे है।


ग्लेन मैक्सवेल के इस फैसले के बाद श्रीलंका के विरुद्ध तीसरे T20 मैच के लिए ऑस्ट्रेलिया की टीम में डीआर्सी शॉर्ट को शामिल किया गया है। क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया ने इस बात की जानकारी दी कि ग्लेन मैक्सवेल क्रिकेट से ब्रेक ले रहे हैं। इसी कारण उनकी जगह टीम में डीआर्सी शॉर्ट को शामिल किया गया है। शुक्रवार के दिन वह ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेट टीम से जुड़ जाएंगे।



साइकोलॉजिस्ट ने कहा कि ग्लेन मैक्सवेल ने क्रिकेट से दूरी बना ली है। अब वो अपने परिवार के साथ समय बिताएंगे। ऑस्ट्रेलिया क्रिकेट टीम के जनरल मैनेजर बेन ओलिवर ने बताया कि हम ग्लेन मैक्सवेल के फैसले को स्वीकार करते हैं। हमें पूरी टीम के खिलाड़ियों की स्वास्थ्य की चिंता है। हमारा कर्तव्य है कि टीम के खिलाड़ी पूरी तरह से स्वस्थ रहें। खिलाड़ियों एवं स्टाफ की देखभाल हमारा पहला कर्तव्य है। हमें ग्लेन मैक्सवेल के फैसले से कोई भी परेशानी नहीं है। ग्लेन मैक्सवेल जल्दी ही ठीक हो जाएंगे। हमारी टीम उनकी देखरेख करेगी जिससे कि वह जल्दी से जल्दी मैदान पर वापसी कर सके।

हाल ही में इमर्जिंग एशिया कप 2019 का फाइनल मुकाबला भारतीय महिला क्रिकेट टीम और श्रीलंका महिला क्रिकेट टीम के बीच खेला गया। इस मुकाबले में भारतीय महिला क्रिकेट टीम ने शानदार जीत दर्ज की और इमर्जिंग एशिया कप का खिताब अपने नाम कर लिया। यह फाइनल मुकाबला कोलंबो के आर प्रेमदासा स्टेडियम में खेला गया। डकवर्थ लुईस नियम के तहत भारतीय महिला क्रिकेट टीम ने श्रीलंका महिला क्रिकेट टीम को 14 रनों से करारी शिकस्त दी और खिताब पर कब्जा कर लिया।


मैच में भारतीय महिला खिलाड़ी और भारतीय महिला क्रिकेट टीम की कप्तान देविका वैद्य ने 7 ओवर में 29 रन देकर चार विकेट चटकाए। शानदार प्रदर्शन के लिए उनको वुमैन ऑफ द मैच चुना गया। फाइनल मुकाबले में भारतीय महिला टीम ने टॉस जीता और पहले बल्लेबाजी करने का निर्णय लिया। पहले बल्लेबाजी करते हुए भारतीय महिला टीम ने निर्धारित 50 ओवरों में 9 विकेट के नुकसान पर 175 रन बनाए थे। भारत की तरफ से तनुश्री सरकार ने सर्वाधिक 47 रनों की पारी खेली। उन्होंने 76 गेंदों का सामना किया और पारी के दौरान चार चौके लगाए।

बारिश के चलते यह मैच 35 ओवरों का कर दिया गया। श्रीलंका महिला टीम को 35 ओवरों में 150 रनों का लक्ष्य मिला। लक्ष्य का पीछा करने उतरी श्रीलंका की महिला क्रिकेट टीम 34.3 ओवरों में 135 रन बनाकर ऑल आउट हो गई। श्रीलंका महिला क्रिकेट टीम की कप्तान हर्षिता मदावी ने सर्वाधिक 39 रनों की पारी खेली। हालांकि वह टीम को जीत नहीं दिला सकी। श्रीलंका महिला क्रिकेट टीम का इमर्जिंग एशिया कप 2019 जीतने का खिताब अधूरा रह गया।


भारतीय महिला क्रिकेट टीम की कप्तान के अलावा बेहतरीन गेंदबाज तनुजा कंवर ने भी शानदार प्रदर्शन किया। उन्होंने 7 ओवरों में 15 रन देकर चार श्रीलंकाई महिला क्रिकेटरों का पवेलियन का रास्ता दिखाया।सुश्री प्रधान ने एक विकेट हासिल किया।

बॉलीवुड एक्ट्रेस सनी लियोनी अपनी हॉट तस्वीरों और अदाओं को लेकर सुर्खियों में छाई रहती हैं। हाल ही में बॉलीवुड एक्ट्रेस सनी लियोनी से जुड़ी बड़ी खबर सामने आई है। यह खबरर क्रिकेट प्रेमियों को काफी खुश कर सकती है। सनी लियोनी 14 नवंबर से दुबई में शुरू होने वाली t10 लीग की टीम दिल्ली बुल्स से जुड़ गई है। सनी लियोनी ने खुद को दिल्ली बुल्स की ब्रांड एंबेसडर के तौर पर जुड़ा है।

दुबई में हाल ही में एक कार्यक्रम आयोजित हुआ था जिसमें दिल्ली बुल्स की टीम की जर्सी का अनावरण हुआ। दिल्ली बुल्स का कप्तानी इंग्लैंड क्रिकेट टीम के कप्तान इयोन मोर्गन को सौंपी गई है। इतना ही नहीं दिल्ली बुल्स की टीम में शोएब मलिक, मोहम्मद नबी जैसे कई अनुभवी खिलाड़ी हैं। भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व तेज गेंदबाज जहीर खान भी इस टीम में शामिल किए गए हैं। युवा तेज गेंदबाज मोहम्मद हसनैन को भी दिल्ली बुल्स की टीम ने खरीदा है।

t10 लीग का आयोजन पिछली बार शाहजहां क्रिकेट स्टेडियम में हुआ था। लेकिन इस बार आयोजन स्थल में परिवर्तन किया गया है। इस बार t10 लीग का आयोजन यूनाइटेड अरब अमीरात की राजधानी अबू धाबी में होगा। t10 लीग में कुल 8 टीमें हिस्सा ले रही है।


सनी लियोनी ने दिल्ली बुल्स का ब्रांड एंबेसडर बनने पर कहा कि मुझे बहुत खुशी हो रही है कि जुनून और गर्व से भरी हुई टीम का ब्रांड एंबेसडर बनने का मौका मिला। मैं ब्रांड एंबेसडर बनकर काफी ज्यादा खुश हूं। सच बताऊं तो मुझे दिल्ली बुल्स की जर्सी की टीम का रंग काफी ज्यादा पसंद है। मैं अपनी टीम दिल्ली को हार्दिक शुभकामनाएं देती हैं और कामना करती हूं कि वह टी10 लीग का खिताब अपने नाम करें। मुझे t10 लीग शुरू होने का बेसब्री से इंतजार है। उम्मीद करती हूं कि हमारी टीम का प्रदर्शन सबसे बेहतर रहेगा।


अगले साल ऑस्ट्रेलिया में आयोजित होने वाले T20 वर्ल्ड कप के लिए स्कॉटलैंड की टीम ने क्वालीफाई कर लिया है। हाल ही में स्कॉटलैंड और यूएई के बीच क्वालीफायर मुकाबला खेला गया। इस मुकाबले में स्कॉटलैंड ने यूएई को 90 रनों से करारी शिकस्त दी। पहले बल्लेबाजी करने उतरी स्कॉटलैंड की टीम ने निर्धारित 20 ओवरों में 198 रन बनाए।

स्कॉटलैंड के ओपनर बल्लेबाज जॉर्ज मुंसे ने 65 रनों की शानदार पारी खेली। लक्ष्य का पीछा करने उतरी यूएई की टीम 18.3 ओवरों में 108 रन बनाकर ऑल आउट हो गई। स्कॉटलैंड के गेंदबाज ने  माक्र वाट और सफियान शरीफ तीन-तीन विकेट हासिल किए। आपको बता दें कि स्कॉटलैंड से पहले नामीबिया, नीदरलैंड, पापुआ न्यू गिनी और आयरलैंड की टीम भी T20 वर्ल्ड कप के लिए क्वालीफाई कर चुकी है।


टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने उतरी स्कॉटलैंड की टीम की शुरुआत काफी अच्छी रही। जॉर्ज मुंसे और कप्तान कायले कॉएट्जर ने तेजी से रन बटोरे। पहले विकेट के लिए जॉर्ज मुंसे और कप्तान कायले कॉएट्जर के बीच 87 रनों की पार्टनरशिप। हालांकि कायले कॉएट्जर 34 रन बनाकर अपना विकेट गंवा बैठे।

इसके बाद स्कॉटलैंड के  रिची बैरिंगटन बल्लेबाजी करने उतरे। उन्होंने इस मुकाबले में 18 गेंदों में 48 रन बनाए। उन्होंने अपनी पारी के दौरान 4 चौके एवं 3 छक्के लगाए। नंबर चार पर बल्लेबाजी करते हुए कैलम मैक्लॉड ने 12 गेंद में 25 रनों की पारी खेली। जॉर्ज मुंसे की बेहतरीन पारी की बदौलत स्कॉटलैंड की टीम ने जीत दर्ज की। उन्होंने अपनी पारी के दौरान 43 गेंदों का सामना किया। उन्होंने अपनी पारी में 2 चौके और 5 छक्के भी लगाए।


लक्ष्य का पीछा करने उतरी यूएई की टीम ने तीसरी ही गेंद पर अपना पहला विकेट गंवा दिया। इसके बाद तीसरे ओवर में यूएई की टीम को दूसरा झटका लगा। रमीज शहजाद ने यूएई की टीम को लक्ष्य की तरफ पहुंचाने की कोशिश की। हालांकि वह 28 गेंदों में 34 रन बनाकर पवेलियन लौट गए। यूएई की टीम ने 81 रनों पर 3 विकेट गंवा दिए। इसके बाद उसने अपने अगले 4 विकेट 8 गेंदों में खो दिए। यूएई का स्कोर अचानक 7 विकेट के नुकसान पर 84 रन हो गया।

भारतीय क्रिकेट टीम के तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह को दक्षिण अफ्रीका के विरुद्ध टेस्ट सीरीज से बाहर कर दिया गया था क्योंकि जसप्रीत बुमराह को स्ट्रेस फैक्चर हुआ है। जसप्रीत बुमराह को बांग्लादेश के विरुद्ध होने वाली टी-20 टीम में भी जगह नहीं मिली है। हालांकि उम्मीद जताई जा रही है कि वे जल्दी ही भारतीय टीम में वापसी कर सकते हैं। ऐसा इसलिए क्योंकि बुमराह ने हाल ही में सोशल मीडिया पर एक तस्वीर पोस्ट की। उस तस्वीर में जसप्रीत बुमराह जिम में वर्कआउट करते हुए नजर आ रहे हैं। इस बात से पता चलता है कि जसप्रीत बुमराह ने भारतीय टीम में वापसी की तैयारियां शुरू कर दी है।


जसप्रीत बुमराह ने जो तस्वीर शेयर की उस पर इंग्लैंड महिला क्रिकेट टीम की खिलाड़ी डैनिय व्याट ने कमेंट किया। जसप्रीत बुमराह ने अपनी जिम की तस्वीर शेयर करते हुए कैप्शन में लिखा कि कमिंग सून। इस तस्वीर को इंग्लैंड की महिला क्रिकेटर डैनिय व्याट ने लाइक किया और कमेंट करते हुए लिखा कि  'बेबी वेट्स'।



आपको बता दें कि डैनिय व्याट ने ऐसा इसलिए लिखा क्योंकि तस्वीर में जसप्रीत बुमराह ने बहुत ही हल्के वजन के वेट्स उठाए हैं। इसी कारण डैनिय व्याट ने ऐसा कमेंट किया। चोटिल होने के बाद जसप्रीत बुमराह ने कुछ दिनों तक आराम किया। लेकिन जब उनको लगा कि वह ठीक हो रहे हैं तो उन्होंने भारतीय टीम में वापसी की तैयारियां शुरू कर दी। ऐसा कहा जा रहा है कि न्यूजीलैंड के विरुद्ध होने वाली सीरीज से बुमराह की भारतीय टीम में वापसी हो सकती है।

भारतीय टीम के लिए जसप्रीत बुमराह का फिट होना काफी ज्यादा आवश्यक है क्योंकि अगले साल ऑस्ट्रेलिया में T20 वर्ल्ड कप का आयोजन होना है। जसप्रीत बुमराह भारतीय टीम के ट्रंप कार्ड है। जसप्रीत बुमराह ने ज्यादातर मैचों में भारतीय टीम की जीत में अहम भूमिका निभाई है। इस समय जसप्रीत बुमराह रिहैबिटेशन की प्रक्रिया से गुजर रहे हैं। वह बीसीसीआई की मेडिकल टीम की निगरानी में है। बुमराह ने इस बारे में जानकारी दी कि उन्होंने अपनी फिटनेस पर काम करना शुरू कर दिया है।

3 नवंबर की भारत और बांग्लादेश के बीच t20 सीरीज शुरू होने जा रही है। हालांकि टी20 सीरीज शुरू होने से पहले बांग्लादेश की टीम को आईसीसी ने तगड़ा झटका दिया है। बांग्लादेश के ऑलराउंडर खिलाड़ी शाकिब अल हसन पर आईसीसी ने 2 साल का प्रतिबंध लगा दिया है। अब वह अगले 2 साल तक कोई भी मैच नहीं खेल पाएंगे। ऐसा इसलिए किया गया है क्योंकि शाकिब अल हसन ने मैच फिक्स करने की ऑफर की बात आईसीसी को नहीं बताई थी।


आईपीएल 2018 में 26 अप्रैल को सनराइजर्स हैदराबाद और किंग्स इलेवन पंजाब के बीच मैच खेला जा गया था। आप लोगों को इस बारे में पता होगा कि शाकिब अल हसन आईपीएल में सनराइज हैदराबाद के लिए खेलते हैं। दीपक अग्रवाल नाम के एक व्यक्ति ने व्हाट्सएप के जरिए शाकिब अल हसन से टीम की कुछ पर्सनल जानकारी मांगी। हालांकि शाकिब अल हसन ने दीपक अग्रवाल को कुछ भी बताने से साफ साफ इनकार कर दिया। फिर भी आईसीसी ने शाकिब अल हसन को 2 साल के लिए प्रतिबंधित कर दिया।


आईसीसी ने एक नियम तैयार किया है। इस नियम के मुताबिक यदि किसी खिलाड़ी को बुकी मैच फिक्स करने का ऑफर देता है तो उसकी जानकारी खिलाड़ी को आईसीसी को देनी होती है। लेकिन शाकिब अल हसन ने इस बात की जानकारी नहीं दी औरऔर इस गलती की सजा शाकिब अल हसन को दी गई है। 29 अक्टूबर 2020 के बाद ही शाकिब अल हसन मैच खेल पाएंगे।


शाकिब अल हसन अगले साल ऑस्ट्रेलिया में होने वाली T20 वर्ल्ड कप में नहीं खेल पाएंगे। उनका करियर खतरे में पड़ गया है। आईसीसी की एंटी करप्शन यूनिट को इस बात की भनक लग गई थी कि शाकिब अल हसन को मैच फिक्स करने का ऑफर मिला था। शाकिब अल हसन ने इस बारे में बताया कि मैंने यह बात गंभीरता पूर्वक नहीं ली। इसीलिए मैंने इस बात को आईसीसी को बताना उचित नहीं समझा।

बांग्लादेश के बेहतरीन ऑलराउंडर खिलाड़ी शाकिब अल हसन पर आईसीसी ने 2 साल का बैन लगा दिया है क्योंकि शाकिब अल हसन ने मैच फिक्सिंग के ऑफर मिलने की बात आईसीसी से छिपाई थी। आज से लगभग 2 साल पहले शाकिब अल हसन को एक बुकी ने मैच फिक्स करने का आरोप ऑफर दिया था। इस बात की जानकारी शाकिब अल हसन ने आईसीसी को नहीं दी। इसी कारण आईसीसी ने यह सख्त कदम उठाया और शाकिब अल हसन को 2 साल के लिए प्रतिबंधित कर दिया।


आईपीएल 2018 में 26 अप्रैल को सनराइजर्स हैदराबाद और किंग्स इलेवन पंजाब के बीच मैच खेला गया था। मैच शुरू होने से पहले शाकिब अल हसन को बुकी ने मैच फिक्स करने का ऑफर दिया था। आप लोगों को इस बारे में पता होगा कि शाकिब अल हसन आईपीएल में सनराइज हैदराबाद के लिए खेलते हैं।


आईसीसी ने हाल ही में मीडिया में यह जानकारी दी कि दीपक अग्रवाल नाम के एक व्यक्ति ने शाकिब अल हसन को 26 अप्रैल को सनराइजर्स हैदराबाद और किंग्स इलेवन पंजाब के बीच होने वाले मैच को फिक्स करने का ऑफर दिया था। दीपक अग्रवाल ने व्हाट्सएप के माध्यम से शाकिब अल हसन से कांटेक्ट किया था। दीपक नेशाकिब अल हसन से टीम की अंदरूनी जानकारी मांगी थी। हालांकि शाकिब अल हसन ने आईसीसी को बताया कि मैंने दीपक को किसी भी तरह की जानकारी नहीं दी।


हालांकि आईसीसी के नियम के मुताबिक कोई भी खिलाड़ी यह बात नहीं छुपा सकता कि उसको मैच फिक्स करने का ऑफर मिला है। यदि खिलाड़ी ऐसा करता है तो उस पर प्रतिबंध लग सकता है। व्हाट्सएप पर दीपक ने शाकिब अल हसन से यह सवाल पूछा था क्या अमुक खिलाड़ी प्लेइंग इलेवन में शामिल किया जाएगा। इसके अलावा दीपक अग्रवाल ने और भी कई बातें शाकिब अल हसन से पूछी थी जो शाकिब अल हसन ने नहीं बताईं।

3 नवंबर से बांग्लादेश का भारत दौरा शुरू होने जा रहा है। बांग्लादेश की टीम भारत आकर तीन टी-20 और दो टेस्ट मैचों की सीरीज खेलेगी। खुशी की बात यह है कि भारतीय क्रिकेट इतिहास में पहली बार डे नाइट टेस्ट मैच खेला जाएगा और यह ऐतिहासिक होगा। भारत और बांग्लादेश के बीच होने वाला दूसरा टेस्ट मैच डे नाइट टेस्ट मैच होगा जो कोलकाता के ईडन गार्डन स्टेडियम में खेला जाएगा।


बांग्लादेश क्रिकेट बोर्ड के सामने बीसीसीआई ने यह प्रस्ताव रखा था। इस प्रस्ताव को बांग्लादेश क्रिकेट बोर्ड, टीम मैनेजमेंट और खिलाड़ियों ने मंजूरी दे दी है। भारत और बांग्लादेश के बीच डे नाइट टेस्ट मैच कराने का प्रस्ताव किसी और ने नहीं बल्कि बीसीसीआई के नए अध्यक्ष बने सौरव गांगुली ने रखा था। इस बारे में विराट कोहली से सौरव गांगुली ने बातचीत की थी। विराट कोहली ने सौरव गांगुली को पूरा सपोर्ट किया। सोमवार के दिन गांगुली की बांग्लादेश क्रिकेट टीम के सीईओ से बातचीत हुई।


पीटीआई को दिए गए इंटरव्यू में सौरव गांगुली ने यह बताया था कि मैंने बांग्लादेश क्रिकेट बोर्ड के सामने डे नाइट टेस्ट मैच कराने का प्रस्ताव रखा था और वह इस प्रस्ताव को स्वीकार कर चुके हैं। उन्होंने मुझसे कहा था कि सबसे पहले हमें टीम मैनेजमेंट और खिलाड़ियों से बातचीत करनी होगी। अगर वह इस प्रस्ताव को स्वीकार करते हैं तो हम डे नाइट टेस्ट मैच के लिए राजी है। बांग्लादेश की टीम मैनेजमेंट और खिलाड़ी डे नाइट टेस्ट मैच के लिए राजी हो गए।


भारत में ऐसा पहली बार होगा जब डे नाइट टेस्ट मैच खेला जाएगा। आपको बता दें कि साल 2015 में ऑस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड के बीच पहला डे नाइट टेस्ट मैच खेला गया था। भारत, बांग्लादेश अफगानिस्तान एवं आयरलैंड की टीम ने अभी तक एक भी डे नाइट टेस्ट मैच नहीं खेला है। अभी सिर्फ 11 डे नाइट टेस्ट मैच खेले गए हैं।

दक्षिण अफ्रीका के विरुद्ध भारतीय खिलाड़ियों के प्रदर्शन को देखकर भारतीय क्रिकेट टीम के फील्डिंग कोच आर. श्रीधर काफी खुश है। भारतीय खिलाड़ियों ने दक्षिण अफ्रीका के विरुद्ध जो फिटनेस और ताकत दिखाई उससे आर. श्रीधर काफी प्रभावित हुए।


हाल ही में भारतीय क्रिकेट टीम के फील्डिंग कोच आर. श्रीधर ने बड़ा बयान दिया। उन्होंने एक इंटरव्यू में बताया कि भारतीय क्रिकेटरों की फिटनेस और माइंड सेट में काफी बड़ा बदलाव आया है। यह मैदान पर साफ दिखाई देता है। आर. श्रीधर ने न्यूज़ पेपर टाइम्स ऑफ इंडिया से कहा कि रविंद्र जडेजा पिछले 10 सालों में सबसे बेस्ट भारतीय फील्डर रहे हैं। अगर वह टीम में होते हैं तो इससे टीम का मनोबल बहुत बढ़ जाता है। इस कारण विपक्षी टीम दबाव में आ जाती है। रविंद्र जडेजा के अलावा आर. श्रीधर ने विकेटकीपर बल्लेबाज रिद्धिमान साहा की भी जमकर प्रशंसा की।


जडेजा को लेकर भारतीय क्रिकेट टीम के फील्डिंग कोच ने कहा कि वह अपनी खतरनाक और शानदार फील्डिंग से विपक्षी टीमों को डरा देते हैं। अगर वे मैदान पर होते हैं तो खिलाड़ियों में अलग डर रहता है। पिछले एक दशक में रविंद्र जडेजा बेस्ट भारतीय फील्डर साबित हुए हैं।


आर. श्रीधर ने यह भी कहा कि सिर्फ रविंद्र जडेजा ही नहीं बल्कि विराट कोहली, मार्टिन गप्टिल, ग्लेन मैक्सवेल भी बहुत ही शानदार फील्डर है। इनको आप चाहे कहीं भी मैदान पर सेट कर सकते हैं। यह सभी कमाल के एथिलीट है। आर. श्रीधर ने आगे कहा कि युजवेंद्र चहल, जसप्रीत बुमराह और इशांत शर्मा ने पिछले कुछ समय में अपनी फील्डिंग में बहुत सुधार किया है। सिर्फ इन्हीं खिलाड़ियों में नहीं बल्कि सभी भारतीय खिलाड़ियों की फील्डिंग में बहुत सुधार हुआ है। मेरे हिसाब से आईसीसी को फील्डरों के लिए भी रैंकिंग तैयार करनी चाहिए।


वर्तमान में सभी टीमें T20 वर्ल्ड कप की तैयारियों में लगी हुई है। सभी टीमें ऐसे खिलाड़ियों की तलाश कर रही है जो T20 वर्ल्ड कप में धमाकेदार प्रदर्शन करें। हर टीम ये चाहती है कि T20 वर्ल्ड कप 2020 का खिताब हम जीते। पाकिस्तान, इंग्लैंड, ऑस्ट्रेलिया, भारत, दक्षिण अफ्रीका, न्यूजीलैंड सहित सभी टीमें T20 वर्ल्ड कप का खिताब जीतना चाहती हैं।

यही कारण है कि ज्यादातर टीमें T20 सीरीज खेल रही हैं। T20 सीरीज में खिलाड़ी चौके-छक्के लगा रहे हैं। T20 ऐसा फॉर्मेट है जिसमें सबसे ज्यादा छक्के और चौके लगते हैं। लेकिन T20 वर्ल्ड कप 2020 में लंबे छक्के लगाकर जीत हासिल कर पाना बहुत मुश्किल होगा। ऐसा हमारा नहीं बल्कि ऑस्ट्रेलिया के सलामी बल्लेबाज डेविड बॉर्डर का मानना है। मंगलवार के दिन एक इंटरव्यू में डेविड वॉर्नर ने यह बात कही।


डेविड वॉर्नर के मुताबिक अगर आप T20 वर्ल्ड कप जीतना चाहते हैं तो आपको लंबे छक्के नहीं बल्कि विकेट के बीच दौड़ लगानी होगी। मेरे हिसाब से T20 वर्ल्ड कप जीतने के लिए विकेट के बीच रनिंग ज्यादा आवश्यक होगी। ऑस्ट्रेलिया के स्टेडियम में बाउंड्री बड़ी है। यहां आईपीएल की तरह नहीं है। आप आईपीएल की तरह लंबे शॉट नहीं लगा सकते। मैं इस वक्त रनिंग एवं स्ट्राइक रोटेट करने पर ज्यादा फोकस कर रहा हूं। मेरी नजर में टी-20 वर्ल्ड कप के लिए यह सबसे ज्यादा जरूरी है।

चाहे कुछ भी हो हम डेविड वार्नर के बयान से पूरी तरह सहमत है। रविवार के दिन डेविड वॉर्नर ने श्रीलंका के खिलाफ शानदार शतक लगाया। उन्होंने इस दौरान सिर्फ 4 छक्के और 10 चौके लगाए। डेविड वॉर्नर ने इस दौरान 36 रन भागकर लिए। इससे पता चलता है कि डेविड वॉर्नर अपनी बात पर कायम है। डेविड वॉर्नर ने श्रीलंका के विरुद्ध 56 गेंदों में अपना शतक पूरा कर लिया। उन्होंने अपने टी20 करियर का पहला शतक जड़ा।


भारत और बांग्लादेश के बीच t20 सीरीज शुरू होने से पहले बांग्लादेश क्रिकेट टीम के लिए बहुत ही बुरी खबर सामने आई है। आप लोग इस बारे में जानते होंगे कि 3 नवंबर को भारत और बांग्लादेश के बीच पहला t20 मैच खेला जाना है। बांग्लादेश में प्रकाशित होने वाले अखबार समकाल ने इस बात की पुष्टि की है कि आईसीसी ऑलराउंडर खिलाड़ी शाकिब अल हसन पर डेढ़ साल का बैन लगा सकती है।

अखबार की रिपोर्ट में यह जानकारी दी गई कि मैच फिक्सिंग के लिए एक बुकी ने शाकिब अल हसन से कांटेक्ट किया था। इस बात की जानकारी शाकिब अल हसन ने ना तो बांग्लादेश क्रिकेट बोर्ड को और ना ही आईसीसी को दी। अखबार की रिपोर्ट के मुताबिक 2 साल पहले बुकी ने मैच फिक्सिंग के लिए शाकिब अल हसन को कांटेक्ट किया था।


आईसीसी ने यह नियम तय किया है कि अगर किसी खिलाड़ी को मैच फिक्सिंग के लिए ऑफर मिलता है तो उसे तुरंत आईसीसी को बताना होता है। लेकिन शाकिब अल हसन ने आईसीसी के नियम का उल्लंघन किया और आईसीसी से मैच फिक्सिंग के ऑफर मिलने की बात छुपाई। आईसीसी शाकिब अल हसन पर बड़ा फैसला ले सकती है और उन पर डेढ़ साल का बैन लगा सकती है।

रिपोर्ट में यह भी कहा गया कि शाकिब अल हसन को मैच फिक्सिंग के ऑफर मिलने की खबर आईसीसी की एंटी करप्शन यूनिट को पता चल गई। इस मुद्दे पर एंटी करप्शन यूनिट ने ऑलराउंडर खिलाड़ी से बातचीत की। शाकिब अल हसन ने बातचीत के दौरान अपनी गलती स्वीकार भी कर ली। उन्होंने आईसीसी के अधिकारियों को बताया कि मैंने यह बात गंभीरता से नहीं ली। यही कारण था कि मैंने इस बात की जानकारी आईसीसी को नहीं दी।


न्यूज़ पेपर में यह लिखा गया कि आईसीसी इस बात की जानकारी बांग्लादेश क्रिकेट बोर्ड को दे चुका है। आईसीसी ने यह भी कहा है कि शाकिब अल हसन को टीम की ट्रेनिंग से अलग कर दिया जाए। इसी कारण शाकिब अल हसन भारत दौरे से पहले सिर्फ एक प्रैक्टिस सेशन में मौजूद थे।

3 नवंबर को भारत और बांग्लादेश के बीच दिल्ली के अरुण जेटली क्रिकेट स्टेडियम में होने वाले पहले टी20 मैच को लेकर संशय बना हुआ है। हाल ही में पूरे भारत देश में दिवाली का जश्न मनाया गया। लोगों ने जमकर मिठाई खाई और पटाखे भी जलाए। हालांकि पटाखे की वजह से दिल्ली में प्रदूषण और काफी बढ़ गया है। इस कारण यह उम्मीद की जा रही है कि भारत और बांग्लादेश के बीच होने वाले पहले T20 मैच का वैन्यू बदल सकता है। लेकिन अब जो खबर सामने आई है, वह हर किसी को खुश कर सकती है।


रिपोर्ट के मुताबिक भारत और बांग्लादेश के बीच पहला t20 मैच अरुण जेटली क्रिकेट स्टेडियम में ही होगा। रविवार के दिन यानी की दिवाली वाली रात दिल्ली के वायु प्रदूषण स्तर गंभीर श्रेणी में पहुंच गया। उस दिन पटपड़गंज इलाके में एयर क्वालिटी इंडेक्स में वायु प्रदूषण का लेवल 999 पाया गया। फिर भी पहला t20 मैच दिल्ली के अरुण जेटली क्रिकेट स्टेडियम में होगा।


बीसीसीआई के एक अधिकारी ने कहा कि हम पहला t20 मैच कहीं और नहीं बल्कि दिल्ली में ही कराएंगे। हम आयोजन स्थल में कोई परिवर्तन नहीं कर रहे हैं। हमें पता है कि वर्तमान में दिल्ली की वायु की गुणवत्ता बिल्कुल भी ठीक नहीं है। लेकिन यह आने वाले वक्त में पूरी तरह से ठीक हो जाएगी।


भारत और बांग्लादेश के बीच होने वाले पहले T20 मैच को लेकर दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने भी बड़ा बयान दिया था। उन्होंने भी यह कहा था कि वायु प्रदूषण पहले टी-20 मैच में कोई बाधा पैदा नहीं करेगा। मुझे पूरी उम्मीद है कि मैच के दिन वायु प्रदूषण की समस्या पूरी तरह से खत्म हो जाएगी। 4 नवंबर से दिल्ली में Odd Even योजना लागू होने जा रही है। मेरे हिसाब से दिल्ली में मैच का आयोजन होना चाहिए।

श्रीलंका के विरुद्ध T-20 सीरीज के पहले मुकाबले में ऑस्ट्रेलिया ने 134 रनों से शानदार जीत दर्ज की. इस जीत के नायक डेविड वॉर्नर रहे जिन्होंने 56 गेंदों में नाबाद 100 रन की पारी खेली. वॉर्नर के अलावा कप्तान फिंच ने 64 रन बनाए तो वहीं ग्लेन मैक्सवेल ने फील्डिंग और बल्लेबाजी से लाजवाब प्रदर्शन दिखाया. उनकी फील्डिंग और बल्लेबाजी देखकर लोगों को धोनी की याद आ गई.


मैक्सवेल ने क्रीज पर आते ही बल्ले से धमाल मचाना शुरू कर दिया. उन्होंने श्रीलंकाई टीम के गेंदबाजों की जमकर धुनाई की. मैक्सवेल ने 62 रन की तूफानी पारी खेली. इस पारी में उन्होंने 3 छक्के लगाए. उनके द्वारा लगाया गया दूसरा छक्का बहुत ही जबरदस्त था, जिसका वीडियो सोशल मीडिया पर बहुत तेजी से वायरल हो रहा है.


ग्लेन मैक्सवेल ने इस अंदाज में छक्का जड़कर सबको धोनी की याद दिला दी. मैक्सवेल ने धोनी की स्टाइल में हेलीकॉप्टर शॉट खेलकर गेंद को स्क्वायर लेग बाउंड्री के ऊपर से दे मारा. यह शॉट मैक्सवेल ने बिल्कुल धोनी की तरह ही खेला. बल्लेबाजी के बाद मैक्सवेल ने मैदान पर फील्डिंग में अपना जौहर दिखाया.


मैक्सवेल ने एक ओवर में वानिंदु हसारंगा को गजब तरीके से रन आउट किया. खास बात यह रही कि इस दौरान मैक्सवेल कमेंटेटर्स से बातचीत कर रहे थे. 14वें ओवर के दौरान हसारंगा ने लॉन्ग ऑफ की दाएं ओर शॉट खेला. मैक्सवेल ने तेजी से दौड़ते हुए गेंद को पकड़कर बाउंड्री लाइन से सीधे कीपर के पास फेंका और 2 रन लेने के चक्कर में वानिंदु हसारंगा अपना विकेट गंवा बैठे. इस मैच में श्रीलंका की टीम 99 रन पर ढेर हो गई. श्रीलंका की तरफ से कोई भी बल्लेबाज 20 रन का आंकड़ा नहीं छू पाया.

रविवार को टी-20 विश्व कप का क्वालीफायर मैच पापुआ न्यू गिनी और केन्या के बीच खेला. यह मैच बहुत ही रोमांचक रहा. इस मैच में केन्या की टीम को जीतने के लिए 20 ओवर में केवल 119 रन की जरूरत थी. लेकिन केन्या की टीम 73 रन बनाकर ही ढेर हो गई और मैच हार गई. इसी के साथ उसका टी-20 विश्व कप के लिए क्वालीफाई करने का सपना भी टूट गया.


पापुआ न्यू गिनी ने केन्या को 45 रनों से हराकर टी-20 विश्व कप के लिए क्वालीफाई कर लिया है और इसी के साथ पापुआ न्यू गिनी की टीम ने इतिहास रच दिया. वह पहली बार टी-20 विश्व कप के लिए क्वालीफाई करने में कामयाब हुई है.

पापुआ न्यू गिनी ने की चमत्कारी वापसी 


पापुआ न्यू गिनी की टीम ने पहले बल्लेबाजी की. लेकिन उसकी शुरुआत बहुत ही खराब रही. पापुआ न्यू गिनी टीम के 19 रन पर ही 6 विकेट गिर गए थे. लेकिन इसके बावजूद पापुआ न्यू गिनी की टीम ने 19.3 ओवर में 118 रन बनाए और केन्या को जीत के लिए 119 रनों का लक्ष्य दिया. पापुआ न्यू गिनी की तरफ से नंबर आठ पर बल्लेबाजी करने उतरे नॉरमन वैनुआ ने 48 गेंदों में 54 रन की पारी खेली. इस पारी में उन्होंने तीन चौके और दो छक्के जड़े.


नॉरमन के शानदार प्रदर्शन की बदौलत ही पापुआ न्यू गिनी की टीम सम्मानजनक स्कोर खड़ा करने में कामयाब रही. इसके बाद पीएनजी की टीम के गेंदबाजों ने धमाल मचा दिया. पोकाना और वाला ने तीन-तीन विकेट चटकाए. जबकि डेमियन रावु और नॉरमन ने दो-दो विकेट झटके. पापुआ न्यू गिनी की टीम ग्रुप-ए में 6 में से पांच मैच जीतकर टॉप पर रही और उसने ऑस्ट्रेलिया में अगले साल होने वाले टी-20 विश्व कप के लिए क्वालीफाई कर लिया.

जब से सौरव गांगुली बीसीसीआई के अध्यक्ष बने हैं सबको यही उम्मीद है कि भारतीय क्रिकेट में अब बदलाव होगा. चंद दिनों में ऐसा होने वाला है, क्योंकि भारतीय क्रिकेट इतिहास में कुछ ऐसा होगा जो आज से पहले कभी नहीं हुआ. दरअसल, अगले महीने बांग्लादेश की टीम भारत दौरे पर आने वाली है और वह भारत दौरे पर डे-नाइट टेस्ट खेल सकती है.


बीसीसीआई ने बांग्लादेश को भेजा प्रस्ताव 

खबरों के मुताबिक, बीसीसीआई ने बांग्लादेश क्रिकेट बोर्ड को प्रस्ताव भेजा है कि वह टेस्ट सीरीज का दूसरा मुकाबला डे-नाइट कराना चाहता है. ऐसे में कोलकाता के ईडन गार्डन में भारत का पहला डे-नाइट टेस्ट मैच देखने को मिल सकता है. अगर ऐसा होता है तो यह भारतीय क्रिकेट इतिहास में पहली बार होगा. हालांकि अभी तक बांग्लादेश क्रिकेट बोर्ड की तरफ से इस पर कोई प्रतिक्रिया नहीं दी गई है.


रविवार को बीसीबी के क्रिकेट ऑपरेशन चेयरमैन अकरम खान ने मीडिया से कहा-बीसीसीआई ने हमें डे-नाइट टेस्ट मैच का प्रस्ताव भेजा है. हम इस पर चर्चा करेंगे और उसके बाद उन्हें जवाब देंगे. हमें इस संबंध में दो-तीन दिन पहले ही पत्र मिला है. जल्द ही हम इस संबंध में निर्णय लेंगे. लेकिन अभी तक हमने इस मुद्दे पर चर्चा नहीं की है. हम उन्हें एक-दो दिन में अपना फैसला बता देंगे.


बता दें कि बांग्लादेश की टीम ने भी अभी तक एक भी डे-नाइट टेस्ट मैच नहीं खेला है. अगर बांग्लादेश क्रिकेट बोर्ड राजी हो जाता है तो दोनों ही टीमें ईडन गार्डन के मैदान पर पहली बार दूधिया रोशनी में टेस्ट मैच खेलेगी. बांग्लादेश की टीम अगले महीने भारत के साथ 3 नवंबर से T-20 सीरीज खेलेगी, जिसका अंतिम मुकाबला 10 नवंबर को खेला जाएगा. इसके बाद दो टेस्ट मैचों की सीरीज 14 नवंबर से शुरू होगी. यह दोनों टेस्ट मैच विश्व टेस्ट चैंपियनशिप का हिस्सा होंगे.

पाकिस्तान की टीम ऑस्ट्रेलिया में पहुंच चुकी है. ऑस्ट्रेलिया दौरे के लिए पाकिस्तान की टीम में काफी फेरबदल हुआ है. पाकिस्तान की टीम को घरेलू T-20 सीरीज में श्रीलंका से 3-0 से हार का सामना करना पड़ा, जिसके बाद टीम के कप्तान सरफराज अहमद को कप्तानी पद से हटा दिया गया और बाबर आजम को T-20 टीम की कमान सौंप दी गई. लेकिन कप्तान बनते ही बाबर आजम को एक बड़ा झटका लगा है. उन्हें पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड की तरफ से यह झटका लगा है.


पीसीबी ने नहीं दिया यह अधिकार 

बाबर आजम पाकिस्तान की T-20 टीम के कप्तान बन गए हैं. लेकिन बोर्ड ने उन्हें टीम चुनने का अधिकार नहीं दिया है. बाबर आजम ऑस्ट्रेलिया दौरे के लिए पाकिस्तान की टीम में मोहम्मद हफीज और शोएब मलिक को जगह देना चाहते थे. लेकिन पीसीबी ने उनके सुझाव को बिल्कुल भी अहमियत नहीं दी. खबरों के मुताबिक, ऑस्ट्रेलिया रवाना होने से पहले टीम के मुख्य कोच मिस्बाह उल हक ने सरफराज से बाबर आजम से बातचीत कर यह निर्णय किया था कि वह मोहम्मद हफीज और शोएब मलिक को टीम में जगह देने के लिए तैयार है.


लेकिन पीसीबी के कुछ आला अधिकारियों ने दोनों की सलाह नहीं मानी, जिसको लेकर यह बहस हो रही है कि मुख्य कोच और टीम के कप्तान को आखिर क्या अधिकार दिए गए हैं. जब टीम चयन के बारे में बाबर आजम से पूछा गया तो उन्होंने कहा- मैंने अपनी राय दी थी. मुझे लगा था कि टीम को कुछ सीनियर खिलाड़ियों की जरूरत है. लेकिन चयन का अंतिम फैसला चयनकर्ताओं को ही लेना है.

पाकिस्तान का ऑस्ट्रेलिया दौरा


पाकिस्तान की टीम ऑस्ट्रेलिया दौरे पर सबसे पहले तीन मैचों की T-20 सीरीज खेलेगी. पहला मैच 3 नवंबर को, दूसरा मैच 5 नवंबर को और तीसरा मैच 8 नवंबर को खेला जाएगा. इसके बाद दो टेस्ट मैच खेले जाएंगे. पहला टेस्ट मैच 21 नवंबर से और दूसरा टेस्ट मैच 29 नवंबर से शुरू होगा.


आईपीएल 2019 की विजेता टीम मुंबई इंडियंस के लिए भारत के सबसे अमीर आदमी और रिलायंस इंडस्ट्री के चेयरमैन मुकेश अंबानी एवं मुंबई इंडियंस की मालकिन नीता अंबानी ने प्री दिवाली पार्टी रखी। इस पार्टी में मुंबई इंडियंस के खिलाड़ी एवं  सपोर्ट स्टाफ शामिल हुआ। इसके अलावा कुछ बड़े सितारे भी पार्टी में शामिल हुए।


प्री दिवाली पार्टी में मुंबई इंडियंस के कप्तान रोहित शर्मा अपनी पत्नी रितिका सजदेह के साथ कार्यक्रम में पहुंचे। रोहित शर्मा इस दौरान काफी स्टाइलिश नजर आए। वहीं उनकी पत्नी रितिका भी काफी खूबसूरत लग रही है।


कार्यक्रम में मुकेश अंबानी एवं नीता अंबानी ने पूरी टीम को सम्मानित किया क्योंकि मुंबई इंडियंस ने उनको खुशी मनाने के कई बड़े मौके दिए।


भारतीय टीम के ऑलराउंडर खिलाड़ी हार्दिक पांड्या ने कुछ ही समय पहले लंदन में सर्जरी कराई। वह हाल ही में भारत पहुंचे और प्री दिवाली पार्टी में शामिल हुए। हार्दिक पांड्या का स्टाइल बिल्कुल अलग था। उन्होंने सनग्लास भी पहने हुए थे और हाथ में काफी कीमती घड़ी थी।


इस पार्टी में सिर्फ भारतीय ही नहीं बल्कि कई विदेशी खिलाड़ी भी आए। हार्दिक पांड्या, महेला जयवर्धने, क्रुणाल पंड्या और सिद्धेश लाड ने मिलकर एक साथ पोज दिया।


मुंबई इंडियंस की टीम ने 4 बार आईपीएल का खिताब अपने नाम किया। इसके अलावा मुंबई इंडियंस की टीम ने दो बार चैंपियंस लीग T20 का भी खिताब जीता।


मुंबई इंडियंस के लिए पहली बार खेलने वाले युवराज सिंह अपनी पत्नी हेजल कीच के साथ इस समारोह में पहुंचे। युवराज सिंह देसी अवतार में नजर आए।


मुंबई इंडियंस के डायरेक्टर ऑफ क्रिकेट ऑपरेशन जहीर खान भी पार्टी में शामिल हुए। वह अपनी पत्नी सागरिका घाटके के साथ आए।

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget