भारत और बांग्लादेश के बीच t20 सीरीज शुरू होने से पहले बांग्लादेश क्रिकेट टीम के लिए बहुत ही बुरी खबर सामने आई है। आप लोग इस बारे में जानते होंगे कि 3 नवंबर को भारत और बांग्लादेश के बीच पहला t20 मैच खेला जाना है। बांग्लादेश में प्रकाशित होने वाले अखबार समकाल ने इस बात की पुष्टि की है कि आईसीसी ऑलराउंडर खिलाड़ी शाकिब अल हसन पर डेढ़ साल का बैन लगा सकती है।

अखबार की रिपोर्ट में यह जानकारी दी गई कि मैच फिक्सिंग के लिए एक बुकी ने शाकिब अल हसन से कांटेक्ट किया था। इस बात की जानकारी शाकिब अल हसन ने ना तो बांग्लादेश क्रिकेट बोर्ड को और ना ही आईसीसी को दी। अखबार की रिपोर्ट के मुताबिक 2 साल पहले बुकी ने मैच फिक्सिंग के लिए शाकिब अल हसन को कांटेक्ट किया था।


आईसीसी ने यह नियम तय किया है कि अगर किसी खिलाड़ी को मैच फिक्सिंग के लिए ऑफर मिलता है तो उसे तुरंत आईसीसी को बताना होता है। लेकिन शाकिब अल हसन ने आईसीसी के नियम का उल्लंघन किया और आईसीसी से मैच फिक्सिंग के ऑफर मिलने की बात छुपाई। आईसीसी शाकिब अल हसन पर बड़ा फैसला ले सकती है और उन पर डेढ़ साल का बैन लगा सकती है।

रिपोर्ट में यह भी कहा गया कि शाकिब अल हसन को मैच फिक्सिंग के ऑफर मिलने की खबर आईसीसी की एंटी करप्शन यूनिट को पता चल गई। इस मुद्दे पर एंटी करप्शन यूनिट ने ऑलराउंडर खिलाड़ी से बातचीत की। शाकिब अल हसन ने बातचीत के दौरान अपनी गलती स्वीकार भी कर ली। उन्होंने आईसीसी के अधिकारियों को बताया कि मैंने यह बात गंभीरता से नहीं ली। यही कारण था कि मैंने इस बात की जानकारी आईसीसी को नहीं दी।


न्यूज़ पेपर में यह लिखा गया कि आईसीसी इस बात की जानकारी बांग्लादेश क्रिकेट बोर्ड को दे चुका है। आईसीसी ने यह भी कहा है कि शाकिब अल हसन को टीम की ट्रेनिंग से अलग कर दिया जाए। इसी कारण शाकिब अल हसन भारत दौरे से पहले सिर्फ एक प्रैक्टिस सेशन में मौजूद थे।