भारतीय क्रिकेट टीम के बेहतरीन स्पिनर रविचंद्रन अश्विन ने दक्षिण अफ्रीका के विरुद्ध टेस्ट सीरीज से भारतीय टीम में वापसी। उन्होंने पहले टेस्ट मैच में शानदार प्रदर्शन किया। दूसरे टेस्ट मैच में भी उनका प्रदर्शन काफी अच्छा रहा। हाल ही में विजय हजारे ट्रॉफी का फाइनल मुकाबला खेला गया। शुक्रवार के दिन तमिलनाडु एवं कर्नाटक के बीच हुए फाइनल मैच में रविचंद्रन अश्विन ने बहुत बड़ी गलती कर दी।


जब मुरली विजय के आउट होने के बाद रविचंद्रन अश्विन नंबर तीन पर बल्लेबाजी करने आए तो हर कोई हैरान रह गया। तमिलनाडु क्रिकेट टीम मैनेजमेंट का यह फैसला काफी हैरानी भरा रहा। रविचंद्रन अश्विन ने इस मैच में महज 8 रन बनाए। हालांकि इस दौरान रविचंद्रन अश्विन ने बहुत बड़ी गलती कर दी।


घरेलू मैच में रविचंद्रन अश्विन वह हेलमेट पहन कर आए जिस पर बीसीसीआई का लोगो लगा हुआ था। इस गलती के बाद रविचंद्रन अश्विन पर भारी जुर्माना लग सकता है। हालांकि इसका निर्णय मैच रेफरी चिन्मय शर्मा करेंगे। चिन्मय शर्मा यदि कहते हैं कि अश्विन पर जुर्माना लगेगा तो उन्हें जुर्माना भरना पड़ेगा, अन्यथा नहीं। जो नियम बनाए गए हैं, उनके मुताबिक अश्विन ने नियम तोड़ा है।


घरेलू क्रिकेट में कोई भी खिलाड़ी बीसीसीआई के लोगो का प्रयोग नहीं कर सकता। कपड़ों के संबंध में एक नियम तय किया गया है। अगर कोई खिलाड़ी घरेलू क्रिकेट में नेशनल टीम का हेलमेट पहनना चाहता है तो उसको बोर्ड का लोगो टेप से छुपाना पड़ता है। इस बारे में हमेशा ही मैच अधिकारियों और खिलाड़ियों को सचेत किया जाता रहा है। हालांकि इसके बावजूद भी रविंचंद्रन अश्विन ने गलती की है। इसलिए उन पर बड़ा जुर्माना लग सकता है। फाइनल मुकाबले में मयंक अग्रवाल नेशनल टीम का हेलमेट पहन कर खेलने उतरे थे। हालांकि उन्होंने बीसीसीआई को लोगो को टेप से छिपा दिया।