November 2019

ऑस्ट्रेलिया और पाकिस्तान के बीच टेस्ट सीरीज का दूसरा मुकाबला खेला जा रहा है. लेकिन इस सीरीज में ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाज पाकिस्तानी गेंदबाजों के लिए खतरा बन गए हैं. डेविड वॉर्नर ने एडिलेड टेस्ट के दूसरे दिन तिहरा शतक लगा दिया. वॉर्नर ने पाकिस्तान के स्पिनर यासिर शाह की जमकर धुनाई की और उनके करियर के आंकड़े ही बिगाड़ दिए. डेविड वॉर्नर ने नाबाद 335 रन की पारी खेली.


ऑस्ट्रेलिया की पहली पारी में यासिर शाह ने 32 ओवर फेंके जिसमें उन्होंने 197 रन लुटाए और वह एक भी विकेट हासिल नहीं कर पाए. अगर ऑस्ट्रेलियाई टीम पारी घोषित नहीं करती तो दूसरे टेस्ट में यासिर शाह 200 से ज्यादा रन लुटा देते. बता दें कि इससे पहले ब्रिसबेन में खेले गए टेस्ट मैच में यासिर शाह ने 48.5 ओवर गेंदबाजी की थी, जिसमें उन्होंने 205 रन लुटाए थे और केवल 4 विकेट हासिल किए थे.


यासिर शाह अब तक इस सीरीज में 2 मैचों में 402 रन लुटा चुके हैं और उन्होंने केवल चार ही विकेट लिए हैं. उनका गेंदबाजी औसत 100 से ज्यादा का है. उन्होंने प्रत्येक विकेट के लिए 121 गेंद फेंकी है. ऑस्ट्रेलिया में यासिर शाह का प्रदर्शन बहुत ही खराब रहा है. 2016-17 में जब पाकिस्तान की टीम ऑस्ट्रेलिया दौरे पर आई थी तब उन्होंने एक पारी में 207 रन लुटा दिए थे.


यासिर शाह को सबसे ज्यादा डेविड वॉर्नर ने अपना निशाना बनाया. एडिलेड टेस्ट में डेविड वॉर्नर ने यासिर की 110 गेंदों में 111 रन बनाए. यासिर शाह ने जब स्टीव स्मिथ का विकेट लिया था तो उन्होंने खुलकर इसका जश्न मनाया था. यासिर शाह ने कैमरे में 7 उंगलियां दिखाकर इशारा किया था कि उन्होंने सातवीं बार स्टीव स्मिथ को आउट किया है. लेकिन एडिलेड टेस्ट में वह कोई भी विकेट हासिल नहीं कर पाए.


ऑस्ट्रेलियाई टीम के ओपनर बल्लेबाज डेविड वार्नर ने पाकिस्तान के विरुद्ध खेले जा रहे मैच में तिहरा शतक लगाकर कई विश्व रिकार्ड कायम किए. इस मैच में उन्होंने एक ऐसा विश्व रिकॉर्ड बनाया है जिसे तोड़ना शायद ही किसी बल्लेबाज के लिए संभव होगा. डेविड वॉर्नर ने 33 साल से 33 दिन की उम्र में टेस्ट क्रिकेट में तिहरा शतक लगाया है, जो बहुत ही खास रिकॉर्ड है.


शनिवार को पाकिस्तान के विरुद्ध एडिलेड में खेले जा रहे टेस्ट मैच के दूसरे दिन डेविड वॉर्नर ने नाबाद 335 रन की पारी खेली. हालांकि पहले टेस्ट मैच में डेविड वॉर्नर दोहरा शतक पूरा करने से चूक गए थे. लेकिन दूसरे मैच में उन्होंने जमकर रन बरसाए. डेविड वॉर्नर जिस तरह से बल्लेबाजी कर रहे थे, उससे तो लग रहा था कि वह 400 रन पूरे कर लेंगे और ब्रायन लारा के उस रिकॉर्ड को तोड़ देंगे, जो उन्होंने 400 रन की पारी खेलकर बनाया था. हालांकि जब डेविड वॉर्नर 335 रन पर बल्लेबाजी कर रहे थे तब आस्ट्रेलियाई टीम ने पारी घोषित कर दी और वो ऐसा नहीं कर पाए.

डेविड वॉर्नर ने बनाया अनोखा विश्व रिकॉर्ड 


डेविड वार्नर ने 33 साल 33 दिन की उम्र में टेस्ट क्रिकेट में तिहरा शतक जड़ा है. बता दें कि साउथ अफ्रीका के खिलाड़ी गैरी कर्स्टन ने 33 साल 33 दिन की उम्र में टेस्ट क्रिकेट में शतक लगाया था. जबकि इंग्लिश बल्लेबाज डेनिस कॉम्पटन ने 29 साल 29 दिन की उम्र में टेस्ट में दोहरा शतक लगाने का कारनामा किया था. वहीं डेविड बून ने 28 साल 28 दिन की उम्र में टेस्ट क्रिकेट में 149 रन की पारी खेली. टेस्ट क्रिकेट में ऐसा संयोग केवल चार ही बार बना, जब साल और दिन की संख्या एक ही हो और क्रिकेटर ने शतक लगाया हो.

टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली का कहना है कि भारतीय टीम के मुख्य कोच रवि शास्त्री को ट्रोल करने का एजेंडा किसी की साजिश है. शनिवार को विराट कोहली ने इंडिया टुडे के एक कार्यक्रम में कहा कि भारतीय कोच कम से कम इस धारणा से प्रभावित नहीं है कि वह कप्तान की हां में हां मिलाएं.


विराट ने शास्त्री की तारीफ करते हुए कहा कि उन्होंने बिना हेलमेट के तेज गेंदबाजों का सामना किया है और ओपनर बल्लेबाज के रूप में 41 की औसत से रन बनाए हैं, जो मौजूदा कोच के आलोचकों के लिए करारा जवाब है. विराट ने कहा- मुझे लगता है कि यह सब चीजें एजेंडा से प्रभावित हैं. लेकिन कोई ऐसा क्यों और किस लिए करवा रहा है, यह मुझे नहीं पता. हालांकि रवि भाई ऐसे व्यक्ति हैं जो इस तरह की चीजों पर बिल्कुल भी ध्यान नहीं देते.


विराट ने रवि शास्त्री की तारीफ की और कहा कि उन्होंने बाएं हाथ के स्पिनर के रूप में अपना करियर शुरू किया और फिर भारतीय टीम के लिए पारी का आगाज भी किया. उन्हें 1985 के विश्व सीरीज क्रिकेट में चैंपियन ऑफ द चैंपियंस का अवॉर्ड मिला था.


विराट कोहली ने ट्रोलर्स को जवाब देते हुए कहा- दसवें नंबर से सलामी बल्लेबाज के रूप में भेजा गया और उन्होंने 41 की औसत से रन बनाए. वह किसी भी ऐसे व्यक्ति की बात से परेशान नहीं होते जो घर में बैठकर उन्हें ट्रोल कर रहा हो. जो लोगों उन्हें ट्रोल करना चाहते हैं, उनको वह करना चाहिए जो उन्होंने करके दिखाया है. इसके बाद ही उनके साथ बहस कीजिए.

पूर्व विकेटकीपर-बल्लेबाज फारुख इंजीनियर ने कुछ दिन पहले अनुष्का शर्मा को लेकर एक विवादित बयान दिया था जिस पर अब विराट कोहली ने अपनी चुप्पी तोड़ी है. विराट कोहली ने शनिवार को कहा कि उनकी पत्नी अनुष्का शर्मा का नाम चयनकर्ताओं के साथ क्यों जोड़ा जाता है. हर मामले में अनुष्का को घसीटना सही नहीं है. कुछ दिनों पहले ही फारुख इंजीनियर ने कहा था कि विश्व कप के दौरान इंग्लैंड में चयनकर्ता अनुष्का शर्मा को चाय परोस रहे थे.


दरअसल, फारुख इंजीनियर ने चयनकर्ताओं पर निशाना साधते हुए कहा था कि विश्वकप के दौरान भारतीय चयनकर्ता कप्तान विराट कोहली की पत्नी अनुष्का शर्मा की जरूरत पूरा कर रहे थे. उन्होंने कहा कि वह केवल अनुष्का शर्मा को चाय पिला रहे थे.


कप्तान कोहली ने एक कार्यक्रम में कहा- अनुष्का श्रीलंका के विरुद्ध एक विश्वकप मैच देखने आई थी और और वह फैमिली बॉक्स में बैठी थी. फैमिली बॉक्स, चयनकर्ता बॉक्स से काफी दूर था और उस समय बॉक्स में कोई चयनकर्ता भी नहीं था. उनके साथ उनके दो दोस्त भी थे. जैसा कि मैंने पहले भी कहा है कि अनुष्का मशहूर है और जब भी लोग उनका नाम लेते हैं तो सबका ध्यान इस ओर चला जाता है.त अगर आप चयनकर्ताओं के बारे में कुछ कहना चाहते हैं तो ऐसा करें. लेकिन अनुष्का का नाम हर बात में घसीटना सही नहीं है.


अनुष्का शर्मा ने फारुख इंजीनियर द्वारा दिए गए बयान पर नाराजगी जाहिर की थी और उन पर पलटवार करते हुए एक ट्वीट किया था जिसमें उन्होंने कहा था कि उनकी चुप्पी को उनकी कमजोरी ना समझा जाए. मैं पिछले 11 सालों से चुप रही है. लेकिन इस बार जवाब देना जरूरी है.

ऑस्ट्रेलिया टीम के ओपनर बल्लेबाज डेविड वॉर्नर ने पाकिस्तान के विरुद्ध एडिलेड में खेले जा रहे टेस्ट मैच के दूसरे दिन दोहरा शतक लगाकर इतिहास रच दिया है. डेविड वॉर्नर ने जो कारनामा किया है उसके लिए उनका नाम हमेशा के लिए इतिहास के पन्नों में दर्ज हो गया. डेविड वॉर्नर गुलाबी गेंद टेस्ट में दोहरा शतक लगाने वाले ऑस्ट्रेलिया के पहले बल्लेबाज बन गए हैं.


ऑस्ट्रेलिया और पाकिस्तान के बीच एडिलेड में डे-नाइट टेस्ट मैच के दूसरे दिन का खेल खेला जा रहा है, जिसमें वॉर्नर ने दोहरा शतक लगा दिया है. वॉर्नर ने पहले दिन शतक लगाया था. लेकिन दूसरे दिन कुछ घंटे बल्लेबाजी करते ही उन्होंने अपना दोहरा शतक भी पूरा कर लिया. डेविड वॉर्नर ने 260 गेंदों में 23 चौकों की मदद से दोहरा शतक पूरा किया.

पिंक बॉल टेस्ट में ऑस्ट्रेलिया का पहला दोहरा शतक 


विश्व टेस्ट चैंपियनशिप में ऑस्ट्रेलिया की तरफ से पहला दोहरा शतक स्टीव स्मिथ ने लगाया था और डेविड वॉर्नर यह कारनामा करने वाले दूसरे ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाज बन गए हैं. डेविड वॉर्नर इसके अलावा डे-नाइट टेस्ट मैच में दोहरा शतक लगाने वाले ऑस्ट्रेलिया केपहले बल्लेबाज बन गए हैं.

बैन के बाद फॉर्म में वॉर्नर की वापसी 


डेविड वॉर्नर को पिछले साल बॉल टेंपरिंग के मामले में दोषी पाया गया था जिसकी वजह से क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया ने उनके ऊपर 1 साल का बैन लगा दिया. डेविड वॉर्नर ने बैन झेलने के बाद क्रिकेट के मैदान पर शानदार वापसी की है. वह लगातार रन बना रहे हैं. उन्होंने विश्वकप टूर्नामेंट में भी बहुत शानदार प्रदर्शन किया था.

बॉल टेंपरिंग के मामले में एक साल का बैन झेलने के बाद स्टीव स्मिथ ने क्रिकेट जगत में शानदार वापसी की है और वे लगातार अच्छा प्रदर्शन कर रहे हैं. फिलहाल ऑस्ट्रेलिया और पाकिस्तान के बीच एडिलेड में डे-नाइट टेस्ट मैच खेला जा रहा है, जिसमें स्टीव स्मिथ ने अपने शानदार प्रदर्शन से इतिहास रच दिया है. स्टीव स्मिथ ने इस मैच के दूसरे दिन कई रिकॉर्ड अपने नाम कर लिए. उन्होंने डॉन ब्रैडमैन को पीछे छोड़ दिया और 1946 में वॉली हैमंड द्वारा बनाया गया रिकॉर्ड भी तोड़ डाला है.


सबसे तेज 7000 टेस्ट रन बनाने वाले खिलाड़ी बने 

स्टीव स्मिथ लाबुशने के आउट होने के बाद मैदान पर बल्लेबाजी करने आए. उन्होंने डेविड वॉर्नर के साथ अपनी पारी को आगे बढ़ाया. इस दौरान स्टीव स्मिथ अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में सबसे तेज 7000 रन बनाने वाले बल्लेबाज भी बन गए हैं. स्टीव स्मिथ ने वॉली हैमंड का एक रिकॉर्ड तोड़ दिया, जो उन्होंने 1946 में बनाया था.


वॉली हैमंड ने 131 पारियों में 7000 रन पूरे किए थे. लेकिन स्टीव स्मिथ ने 126 पारियों में यह कारनामा करके उनका रिकॉर्ड तोड़ दिया. इस मामले में तीसरे नंबर पर भारत के पूर्व ओपनर बल्लेबाज वीरेंद्र सहवाग हैं, जिन्होंने 134 पारियों में यह उपलब्धि हासिल की थी.

ब्रैडमैन को छोड़ा पीछे 


स्टीव स्मिथ ने 7000 रन पूरे कर लिए हैं. उन्होंने ऑस्ट्रेलिया के महान बल्लेबाज डॉन ब्रैडमैन को पीछे छोड़ दिया है, जिन्होंने अपने टेस्ट करियर में 6996 रन बनाए हैं. इस मामले में स्टीव स्मिथ उनसे आगे निकल गए हैं. स्टीव स्मिथ बहुत ही शानदार फॉर्म में चल रहे हैं. उन्होंने एशेज सीरीज की 7 पारियों में 774 रन बनाए थे.

भारतीय टीम के ओपनर बल्लेबाज रोहित शर्मा केवल मैदान पर बल्ले से ही धूम नहीं मचा रहे हैं, बल्कि इन दिनों वे मैदान के बाहर भी काफी तहलका मचा रहे हैं. वनडे और T-20 के बाद अब रोहित शर्मा ने टेस्ट क्रिकेट में भी बतौर ओपनर धमाल मचा दिया है और उनका बल्ला जमकर चल रहा है. क्रिकेट के अलावा रोहित ने एडवर्टाइजमेंट जगत में भी अपना सिक्का जमा लिया है.


रोहित शर्मा ने पिछले कुछ समय में 10 नए ब्रांड के साथ करार किया है. इसकी वजह से उनकी ब्रांड वैल्यू में बहुत बढ़ोतरी हुई है. सूत्रों के मुताबिक, मौजूदा समय में रोहित शर्मा 20 ब्रांड के साथ जुड़े हुए हैं. इन ब्रांड में CEAT टायर्स, एडिडास, रसना, शार्प इलेक्ट्रॉनिक्स, ड्रीम 11 जैसे बड़े-बड़े नाम शामिल है.


रोहित हर ब्रांड के लिए एक दिन का एक करोड़ रुपए चार्ज करते हैं. हालांकि अभी तक यह पता नहीं चला है कि रोहित शर्मा की एंडोर्समेंट वैल्यू क्या है. लेकिन सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक, रोहित शर्मा की सालाना आमदनी में 75 करोड़ की बढ़ोतरी हुई है. रोहित शर्मा ऐड के मामले में विराट कोहली और महेंद्र सिंह धोनी के बाद तीसरे नंबर पर आ गए हैं. एडवर्टाइजमेंट से कमाई के मामले में विराट कोहली पहले नंबर पर है. जबकि दूसरे नंबर पर धोनी हैं.

विश्व कप के बाद बढ़ी ब्रांड वैल्यू 


रोहित शर्मा की ब्रांड वैल्यू में विश्वकप के बाद बढ़ोतरी हुई है. रोहित शर्मा ने विश्व कप 2019 में 5 शतक लगाए थे और वह एक विश्व कप टूर्नामेंट में 5 शतक लगाने वाले बल्लेबाज बन गए. इसके बाद रोहित शर्मा लगातार रन बना रहे हैं, जिससे उनकी लोकप्रियता में बहुत बढ़ोतरी हुई है और इसी वजह से उनकी ब्रांड वैल्यू भी बढ़ गई है.


6 दिसंबर से भारत-वेस्टइंडीज के बीच टी-20 सीरीज शुरू होने वाली है. इसके लिए दोनों टीमों की घोषणा हो चुकी है. बता दें कि कीरोन पोलार्ड इस सीरीज में वेस्टइंडीज टीम की कप्तानी करेंगे. कुछ समय पहले ही उन्हें कप्तानी सौंपी गई है. स्टार स्पोर्ट्स ने सीरीज का प्रमोशनल ऐड बनाया है, जो काफी वायरल हो रहा है. इससे पहले भी रोहित और पोलार्ड को लेकर एक ऐड वायरल हुआ था. नए ऐड में पोलार्ड रोहित शर्मा की नींद खराब करते हुए नजर आ रहे हैं.


रोहित शर्मा गहरी नींद में सो रहे होते हैं और सुबह 4:00 बजे उन्हें कॉल आता है. इसमें उनसे कहा जाता है कि पोलार्ड ने उन्हें इतनी सुबह जगाने के लिए कहा है. वेस्टइंडीज के विरुद्ध होने वाली सीरीज से पहले पोलार्ड ने उन्हें वेकअप कॉल करवाया है. इस कॉल को लेकर रोहित शर्मा ने सोशल मीडिया पर अपनी प्रतिक्रिया दी. रोहित ने गुस्से वाली इमोजी शेयर की. साथ ही कीरोन पोलार्ड को भी टैग किया.

भारत और वेस्टइंडीज के बीच शुरू होने जा रही टी-20 सीरीज का पहला मुकाबला 6 दिसंबर को हैदराबाद में खेला जाएगा. इसके बाद दूसरा मैच 8 दिसंबर को तिरुवनंतपुरम में होगा. जबकि सीरीज का तीसरा और अंतिम मुकाबला 11 दिसंबर को मुंबई में खेला जाएगा.


वेस्टइंडीज की वनडे टीम

कीरोन पोलार्ड (कप्तान), सुनील एम्ब्रिस, रोस्टन चेज, शेल्डन कॉटरेल, शिमरोन हेटमेयर, जेसन होल्डर, शाई होप, अल्जारी जोसेफ, ब्रैंडन किंग, एविन लुईस, कीमो पॉल, खायरे पियरे, निकोलस पूरन, रोमारियो शेफर्ड, हेडन वाल्श जूनियर.

वेस्टइंडीज की T-20 टीम

कीरोन पोलार्ड (कप्तान), फैबियन ऐलन, शेल्डन कॉटरेल, शिमरोन हेटमेयर, जेसन होल्डर, कीमो पॉल, ब्रैंडन किंग, एविन लुईस, खायरे पियरे, निकोलस पूरन, दिनेश रामदीन, शेरफोन रदरफोर्ड, लेंडी सिमंस, केस्रिक विलियम्स, हेडन वाल्श, जूनियर.

एससीए अध्यक्ष मोहम्मद अजहरुद्दीन ने गुरुवार को कहा कि वह भारत-वेस्टइंडीज के बीच 6 दिसंबर को होने वाले टी-20 मैच के बाद हैदराबाद क्रिकेट संघ पर लगे भ्रष्टाचार के कथित आरोपों का जवाब देंगे. बता दें कि भारत के बेहतरीन बल्लेबाज अंबाती रायडू ने कुछ समय पहले ही एससीए पर यह आरोप लगाए कि वह भ्रष्टाचार में लिप्त है. उन्होंने अजहरुद्दीन से यह भी अनुरोध किया कि वह छठे हुए धूर्तों से दूर रहें और भ्रष्टाचार को खत्म करने में योगदान दें.

रायडू के आरोपों का देंगे जवाब 


अजहरुद्दीन ने कहा कि इस समय उनका पूरा ध्यान भारत-वेस्टइंडीज के बीच होने वाले मैच पर है और फिलहाल वह भ्रष्टाचार के मामले में कोई बात नहीं करना चाहते. उन्होंने कहा- हमें टी-20 मैच की मेजबानी करनी है और मेरा पूरा ध्यान उसी पर है. मैं चाहता हूं कि आप उस मैच के बारे में ही लिखें.


मुझे यकीन है कि आप पूरी तैयारी से आए होंगे.  हम 6 तारीख के बाद एक और प्रेस कॉन्फ्रेंस करेंगे. उसमें मैं बाकी बातों के बारे में जवाब दूंगा. बतौर प्रशासक यह अजरुदीन का पहला मैच होगा. अजरुदीन सितंबर में एचसीए के अध्यक्ष बने.


भारतीय टीम 6 दिसंबर को हैदराबाद में वेस्टइंडीज के विरुद्ध सीरीज का पहला टी-20 मैच खेलेगी जिसको लेकर अजहरुद्दीन ने कहा- हम पूरी तैयारी कर चुके हैं. मैच की मेजबानी करना आसान नहीं है. बतौर प्रशासक यह मेरा पहला मैच होने वाला है. अजरुदीन ने कहा कि मैं कभी टी-20 क्रिकेट नहीं खेला हूं. उस समय यह होता ही नहीं था. मैं इसे टी-20 प्रारूप में डेब्यू के रूप में देख रहा हूं. क्रिकेटर प्रशासक होना अलग बात है.

राष्ट्रीय क्रिकेट अकादमी के हेड और पूर्व भारतीय कप्तान राहुल द्रविड़ फिलहाल लखनऊ में हैं. गुरुवार को मीडिया से बातचीत के दौरान राहुल द्रविड़ ने बताया कि आईपीएल में भारतीय कप्तानों और प्रशिक्षकों की संख्या में बढ़ोतरी होनी चाहिए. उनका मानना है कि भारतीय कोच भी विदेशी प्रशिक्षकों की तरह काबिल है.


राहुल द्रविड़ ने कहा- मुझे लगता है भारत के पास अच्छे प्रशिक्षकों की कमी नहीं है. जिस तरह हमारे पास क्रिकेट में शानदार प्रतिभा है, उसी तरह कोचिंग विभाग में भी बहुत प्रतिभा है. लेकिन हमें उन्हें मौका देने की जरूरत है. बता दें कि राहुल द्रविड़ भारतीय अंडर-19 और इंडिया-ए टीम के कोच रह चुके हैं. इसके अलावा वह आईपीएल में राजस्थान और दिल्ली की टीमों को कोचिंग दे चुके हैं.


राहुल द्रविड़ की कोचिंग में भारत की अंडर-19 टीम ने विश्व कप का खिताब जीता. द्रविड़ ने कहा कि मुझे उम्मीद है भविष्य में भी अंडर-19 टीम से भारत को अच्छे गेंदबाज मिलेंगे और हर साल हमें जूनियर टीम से अच्छे तेज गेंदबाज मिले भी हैं.


जब राहुल द्रविड़ से भारतीय तेज गेंदबाजी की गुणवत्ता के बारे में सवाल किए गए तो उन्होंने कहा- वर्तमान टीम इंडिया में तेज गेंदबाजी आक्रमण बहुत ही मजबूत है. हमारे पास जसप्रीत बुमराह के अलावा मोहम्मद शमी, ईशांत शर्मा, उमेश यादव जैसे शानदार तेज गेंदबाज है, जिनकी वजह से भारतीय टीम एक के बाद एक जीत हासिल कर रही है. इन खिलाड़ियों को युवा खिलाड़ी फॉलो कर रहे हैं और मैं इसका श्रेय बीसीसीआई को दूंगा.

कर्नाटक प्रीमियर लीग में मैच फिक्सिंग कांड के लपेटे में भारतीय टीम का एक खिलाड़ी भी आ गया है. जुलाई के महीने में पुलिस ने इस मामले में 8 लोगों को गिरफ्तार किया था. अब यह मामला एक अंतरराष्ट्रीय खिलाड़ी तक पहुंच गया है. सेंट्रल क्राइम ब्रांच ने भारतीय क्रिकेटर अभिमन्यु मिथुन के विरुद्ध पूछताछ के लिए नोटिस जारी किया है.

फिलहाल सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी में खेल रहे हैं अभिमन्यु मिथुन 


अभिमन्यु मिथुन 30 साल के हैं. उन्होंने 2010 में भारतीय टीम में डेब्यू किया था. वह भारत के लिए चार टेस्ट मैच और पांच वनडे मैच खेल चुके हैं. फिलहाल अभिमन्यु मिथुन सूरत में है, जहां वह 29 नवंबर को सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी का सेमीफाइनल मुकाबला खेलने वाले हैं. पिछले साल अभिमन्यु मिथुन शिवमोगा लायंस के कप्तान थे. पुलिस कमिश्नर संदीप पाटिल ने इस बात की पुष्टि की है कि वह अभिमन्यु को बुलाकर उनसे पूछताछ करेंगे.

मिथुन से पूछे जाएंगे ये सवाल 


टाइम्स ऑफ इंडिया की खबर के मुताबिक, संदीप पाटिल ने बताया- हमने अभिमन्यु से पूछताछ के लिए कुछ सवाल किए हैं. हम उनसे पिछले सीजन में उनके प्रदर्शन के बारे में पूछेंगे. हम इस बारे में बीसीसीआई को बता चुके हैं. यह करना बहुत ही जरूरी है, क्योंकि वह एक अंतरराष्ट्रीय क्रिकेटर है.

इस तरह हुए थे टीम इंडिया में शामिल 


अभिमन्यु मिथुन ने जब फर्स्ट क्लास क्रिकेट में डेब्यू किया, इसके ढाई महीने बाद ही उन्हें चोटिल एस. श्रीसंत की जगह भारतीय टीम में डेब्यू करने का मौका मिल गया. अभिमन्यु मिथुन ने 2010 में दक्षिण अफ्रीका के विरुद्ध सीरीज के तीसरे वनडे मैच से अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में डेब्यू किया था.

भारतीय टीम के मौजूदा कप्तान विराट कोहली ने विश्व क्रिकेट में काफी ऊंचा मुकाम हासिल कर लिया है. विराट कोहली 31 साल की उम्र में ही अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में 70 शतक लगा चुके हैं. वह विश्व के पहले ऐसे खिलाड़ी है जिसका क्रिकेट के तीनों फॉर्मेट में बल्लेबाजी औसत 50 या उससे ज्यादा का है. विराट कोहली वनडे क्रिकेट में सबसे तेज 8 हजार, 9 हजार, 10 हजार और 11 हजार रन बनाने वाले खिलाड़ी हैं. लेकिन उन्होंने भी अपनी जिंदगी में काफी बुरा दौर देखा है, जिसका खुलासा उन्होंने खुद किया.


हाल ही में विराट ने बताया कि उन्हें किस चीज से सबसे ज्यादा डर लगता है. विराट कोहली ने बताया कि जब भी उनको असफलता मिली तो वह अंदर से टूट गए. ऐसे में यह सवाल लाजमी है कि क्या उन्हें असफलता से डर लगता है. कोहली ने इस मुद्दे पर खुलकर अपनी राय रखी.

मैदान से बाहर आकर खत्म हो जाती है एनर्जी 


विराट कोहली ने इंडिया टुडे से बातचीत के दौरान अपनी असफलताओं को लेकर कहा- क्या मैं सफलता से प्रभावित होता हूं. निश्चित तौर पर हां. हर कोई इससे प्रभावित होता है. मुझे हारना बिल्कुल भी अच्छा नहीं लगता. मैं मैदान के बाहर आकर यह नहीं कहना चाहता कि मैं यह कर सकता था .जब भी मैं मैदान पर जाता हूं तो यह मेरे लिए सम्मान की बात होती है और मैदान से बाहर आते ही मेरी एनर्जी खत्म हो जाती है.

मेरा विश्वास था कि मैं नॉटआउट रहूंगा, लेकिन ....


विराट कोहली ने न्यूजीलैंड के विरुद्ध विश्व कप 2019 के सेमीफाइनल मुकाबले में हार को लेकर कहा- मैं सोच रहा था कि किसी एक मैच में मेरी जरूरत पड़ेगी और मैं डटकर प्रदर्शन करूंगा. मेरा मानना था कि मैं नॉटआउट रहूंगा. लेकिन वह मेरा आंतरिक अहंकार था.


6 दिसंबर से भारत और वेस्टइंडीज के बीच टी-20 सीरीज की शुरुआत होने वाली है. T-20 सीरीज के लिए चयनकर्ताओं ने भारतीय टीम में 2 विकेटकीपर बल्लेबाजों को जगह दी है. एक ऋषभ पंत है और दूसरे विकेटकीपर संजू सैमसन है. लेकिन ऐसा लग रहा है कि ऋषभ पंत को प्लेइंग इलेवन में जगह मिलना मुश्किल है. संजू सैमसन को इस T-20 सीरीज के दौरान प्लेइंग इलेवन में जगह मिलने की पूरी संभावना है, क्योंकि वह खास तैयारी कर रहे हैं.


बता दें कि भारतीय टीम के ओपनर बल्लेबाज शिखर धवन चोटिल होने की वजह से T-20 सीरीज से बाहर हो गए तो उनकी जगह संजू सैमसन को टीम में शामिल कर लिया गया, जो आर्डर में बल्लेबाजी के लिए जाने जाते हैं. धवन की गैरमौजूदगी में उनके पास खेलने का अच्छा मौका है. वहीं ऋषभ पंत की बात करें तो वह पिछले काफी समय से खराब फॉर्म से जूझते हुए नजर आ रहे हैं. सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी में भी उनका प्रदर्शन अच्छा नहीं रहा है. पंत अभी तक एक भी बड़ी पारी नहीं खेल पाए हैं.

सैमसन कर रहे हैं खास तैयारी 


संजू सैमसन बतौर बल्लेबाज भी टीम में जगह बना सकते हैं. इसके लिए वह खास प्रेक्टिस कर रहे हैं. संजू सैमसन बतौर फील्डर भी प्रैक्टिस करते हैं. उनका कहना है कि टीम जो चाहे, मैं वो करने के लिए तैयार हूं. टाइम्स नाउ से बातचीत करते हुए संजू सैमसन ने कहा- मैं व्हाइट बॉल क्रिकेट में केरल के लिए 5-6 साल से विकेटकीपिंग कर रहा हूं. मैं केरल के लिए शॉर्ट फॉर्मेट के साथ रणजी में विकेटकीपिंग करता आ रहा हूं. लेकिन टीम की जरूरत के हिसाब से मैं कहीं भी फिट हो सकता हूं. इसी वजह से संजू सैमसन कीपर के रूप में और फील्डर के रूप में खुद को तैयार कर रहे हैं.

भारतीय टीम के कप्तान विराट कोहली फिलहाल अपनी पत्नी अनुष्का को पूरा समय दे रहे हैं. बांग्लादेश के विरुद्ध T-20 सीरीज से उन्हें आराम दिया गया था तो वह इस दौरान अपनी पत्नी अनुष्का के साथ भूटान घूमने चले गए, जहां उन्होंने अपना जन्मदिन भी मनाया.


अब अगले महीने से भारतीय टीम वेस्टइंडीज के साथ सीमित ओवर सीरीज खेलेगी, जिससे पहले विराट कोहली अनुष्का के साथ समय बिता रहे हैं. विराट कोहली ने पिछली रात को अनुष्का शर्मा के साथ एक फिल्म देखी. गुरुवार की सुबह विराट कोहली ने अपने सोशल मीडिया अकाउंट पर एक तस्वीर शेयर की और अपने प्रशंसकों को बताया कि पिछली रात उन्होंने अपनी हॉट पत्नी और बॉलीवुड एक्ट्रेस अनुष्का शर्मा के साथ फिल्म देखी.


हालांकि विराट ने यह नहीं बताया कि उन्होंने कौन सी फिल्म देखी. लेकिन उनके हाव-भाव देखकर पता चल रहा था कि दोनों ने कोई रोमांटिक फिल्म देखी है. विराट ने पत्नी अनुष्का के साथ तस्वीर शेयर करते हुए लिखा- पिछली रात को हॉटी अनुष्का के साथ मूवी देखी.


वैसे आमतौर पर बड़ी हस्तियों के लिए दिन में फिल्म देखना मुश्किल ही होता है. इसीलिए कुछ थियेटरों में स्पेशल शो रात के समय कुछ हस्तियों के कहने पर चलाए जाते हैं. अगर दिन में यह दोनों फिल्म देखने जाते तो उनके फैंस उन्हें घेर लेते और सेल्फी और ऑटोग्राफ लेने के चक्कर में परेशान कर देते. बता दें कि 11 दिसंबर को विराट और अनुष्का की शादी की दूसरी सालगिरह है.

बांग्लादेश के विरुद्ध कोलकाता टेस्ट में जीत हासिल करने के बाद भारतीय टीम के मुख्य कोच रवि शास्त्री ने पूर्व भारतीय गेंदबाज अनिल कुंबले के साथ एक तस्वीर शेयर की थी जिसमें वह हंसी मजाक करते हुए नजर आए थे. लेकिन अनिल कुंबले के साथ तस्वीर शेयर करना रवि शास्त्री के लिए भारी पड़ गया. प्रशंसकों ने उन्हें सोशल मीडिया पर जमकर ट्रोल किया. इस तस्वीर में रवि शास्त्री और अनिल कुंबले के अलावा भारत के बल्लेबाजी कोच विक्रम राठौर भी नजर आ रहे हैं.


बता दें कि रवि शास्त्री से पहले अनिल कुंबले भारतीय टीम के कोच थे. लेकिन विराट कोहली की वजह से अनिल कुंबले को अपने पद से इस्तीफा देना पड़ा. रवि शास्त्री को 2019 विश्व कप के बाद एक बार फिर से भारतीय टीम का मुख्य कोच बना दिया गया. रवि शास्त्री का कार्यकाल 2021 टी-20 विश्व कप तक का है.


रवि शास्त्री ने बांग्लादेश के विरुद्ध डे-नाइट टेस्ट जीतने के बाद एक तस्वीर शेयर की जिसमें वह कुंबले और विक्रम राठौड़ के साथ किसी बात पर हंसते हुए दिख रहे हैं. इस तस्वीर के साथ उन्होंने कैप्शन में लिखा- भारत के महान क्रिकेटरों में से एक के साथ.

प्रशंसकों ने कर दिया ट्रोल 


रवि शास्त्री की इस तस्वीर को लेकर प्रशंसकों ने उन्हें ट्रोल किया. एक यूजर ने लिखा- जंबो सर को टैग करने के लिए शुक्रिया. वहीं एक और प्रशंसक ने लिखा- सवाल यह है कि क्या यह ऐसा दोनों ओर से है. ऐसा लगता तो नहीं है. बता दें कि अनिल कुंबले ने कोच पद से इस्तीफा देने के बाद कहा था कि उनका और विराट कोहली का रिश्ता अच्छा नहीं था. इसी वजह से उन्होंने अपने पद से इस्तीफा दे दिया. अनिल कुंबले के बाद रवि शास्त्री को भारतीय टीम का मुख्य कोच बना दिया गया .

भारतीय टीम के मध्यक्रम बल्लेबाज अंबाती रायडू का विवादों से काफी पुराना नाता है. फिलहाल अंबाती रायडू की मुश्किलें बढ़ती हुई नजर आ रही है. हैदराबाद क्रिकेट एसोसिएशन ने उन पर कार्यवाही करने की योजना बनाई है. रविवार को अंबाती रायडू ने हैदराबाद क्रिकेट एसोसिएशन के ऊपर भ्रष्टाचार में लिप्त होने का आरोप लगाया था और उन्होंने ट्वीट कर तेलंगाना के मंत्री केटी रामा राव को भ्रष्टाचार रोकने की अपील भी की थी.


अंबाती रायडू ने ट्वीट में बताया कि हैदराबाद क्रिकेट संघ भयंकर भ्रष्टाचार में लिप्त है. उन्होंने कहा कि क्रिकेट टीम पैसे और भ्रष्टाचारी लोगों से प्रभावित है. इसके बाद हैदराबाद क्रिकेट संघ के अध्यक्ष मोहम्मद अजहरुद्दीन ने रायडू को निराश क्रिकेटर बताया. इसी वजह से एचसीए रायडू के खिलाफ कानूनी कार्यवाही करने की योजना बना रहा है.

नियम के मुताबिक होगी कार्यवाही 


टाइम्स ऑफ इंडिया की रिपोर्ट के मुताबिक, हैदराबाद क्रिकेट संघ के सचिव आर विजयानंद ने बताया कि वह संघ पर कीचड़ उछालने के मामले में रायडू के विरुद्ध सख्त से सख्त कार्रवाई की जाएगी. जो भी होगा, वह नियमों के मुताबिक होगा. पहले सीईओ इस मामले में जांच करेंगे. इसके बाद रिपोर्ट आने पर अपेक्स काउंसिल आवश्यक कार्यवाही करेगी.


हालांकि हैदराबाद के कई क्रिकेटर और बोर्ड के अधिकारी रायडू के पक्ष में हैं. हैदराबाद के पूर्व स्पिनर कंवलजीत सिंह ने रायडू का समर्थन किया और कहा कि उन्होंने कोई गलती नहीं की है. इसलिए उन्हें सजा नहीं मिलनी चाहिए. उन्होंने केवल अपने दिल की बात कही है और अधिकारियों को उन्हें धमकाने की जगह यह पता करना चाहिए कि वह क्या कह रहे हैं.


वेस्टइंडीज के विस्फोटक बल्लेबाज क्रिस गेल अपने द्वारा दिए गए बयान की वजह से सुर्खियों में आ गए हैं. क्रिस गेल ने हाल ही में प्रेस कॉन्फ्रेंस में बताया कि वह T-20 लीग में खेलते हैं तो उनको वह सम्मान नहीं मिलता जिसके वह हकदार हैं. इसी वजह से उन्होंने मंजासी टी-20 लीग से संन्यास ले लिया. क्रिस गेल ने एक बार फिर से ऐसा बयान दे दिया है जिस वजह से सब हैरान रह रहे हैं. क्रिस गेल का कहना है कि बीपीएल में बिना उनसे पूछे ही उनका नाम शामिल कर लिया गया.

बीपीएल में नहीं खेलेंगे गेल 


गेल बिग बैश लीग में मेलबर्न रेनेरेग्स के लिए भी खेल चुके हैं. हालांकि इस बार वह बीपीएल में नहीं खेलना चाहते. उन्होंने इस बात पर हैरानी जताई कि उनका नाम बीपीएल के लिए कैसे गया. गेल ने कहा- मैं इस बार बीपीएल नहीं खेल रहा हूं. मुझे नहीं पता कि बीपीएल में मेरा नाम कैसे पहुंचा. लेकिन मुझे यह पता चला कि मेरा नाम किसी टीम के ड्राफ्ट में मौजूद है. पर मुझे नहीं पता कि यह सब कैसे हुआ.

मंजासी T-20 लीग के अंतिम मैच में चला गेल का बल्ला 


क्रिस गेल दक्षिण अफ्रीका में खेली जा रही मंजासी T-20 लीग में जोज़ी स्टार्स के लिए खेल रहे हैं. हालांकि वह इस सीजन में कुछ खास प्रदर्शन नहीं कर पा रहे हैं. क्रिस गेल ने 6 पारियों में 101 रन बनाए. लेकिन रविवार को टूर्नामेंट के आखिरी मुकाबले में उनका बल्ला जमकर चला. क्रिस गेल ने 54 रन की शानदार पारी खेली. मीडिया से जब क्रिस गेल ने बातचीत की तो उन्होंने कहा कि टी-20 लीग में उनके साथ अच्छा बर्ताव नहीं होता जिससे वह दुखी है. उन्हें वह सम्मान नहीं मिलता, जिसके वो हकदार हैं.

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget