भारत और बांग्लादेश की टीमें टेस्ट सीरीज खेलने में व्यस्त हैं. टेस्ट सीरीज का पहला मुकाबला इंदौर के होल्कर स्टेडियम में खेला गया था, जिसे भारतीय टीम ने तीसरे दिन ही पारी और 130 रनों से जीत लिया और सीरीज में भी 1-0 से बढ़त हासिल कर ली. अब सीरीज का अंतिम मुकाबला कोलकाता के ईडन गार्डन स्टेडियम में खेला जाएगा.


यह मैच ऐतिहासिक होने वाला है, क्योंकि यह डे-नाइट टेस्ट मैच होने वाला है जिसके लिए बहुत ही विशेष तैयारियां की गई है. इस मैच को खास बनाने के लिए तमाम तरह के इंतजाम किए गए हैं. बीसीसीआई अध्यक्ष सौरव गांगुली ने रविवार को इस मैच के आधिकारिक शुभंकर पिंकू-टिंकू का भी अनावरण किया. बता दें कि इस खास मौके पर आसमान में एक गुलाबी रंग का गुब्बारा भी उड़ाया गया, जो भारत-बांग्लादेश के बीच ऐतिहासिक टेस्ट के अंत तक आसमान में लहराता हुआ नजर आएगा जिसे किलोमीटर दूर से भी आसमान में देखा जा सकेगा.

कई इमारतें होंगी गुलाबी रोशनी से रोशन 


इतना ही नहीं डे-नाइट टेस्ट मैच के दौरान कोलकाता की कई महत्वपूर्ण इमारतें गुलाबी रोशनी से जगमगाएंगी. कुछ जगह पर तो गुलाबी रोशनी वाली लाइट लगा दी गई है. हुगली नदी में गुलाबी गेंद वाली जगमगाती नाव नजर आएगी. इतना ही नहीं शहर में बनी टाटा स्टील की बिल्डिंग की 20 नवंबर से 3डी मैपिंग की जाएगी.


भारत और बांग्लादेश की टीमों ने अभी तक एक भी डे-नाइट एक टेस्ट मैच नहीं खेला है तो इस लिहाज से यह दोनों टीमों के लिए पहला डे-नाइट टेस्ट मैच होगा. दोनों ही टीमें डे-नाइट टेस्ट मैच खेलने के लिए बहुत उत्साहित हैं. भारतीय टीम ने पिंक गेंद से खेलने के लिए तैयारियां भी शुरू कर दी हैं. अब देखना होगा कि भारत पहले डे-नाइट टेस्ट मैच में कैसा प्रदर्शन करता है.