बांग्लादेशी टीम के स्पिन गेंदबाजी कोच डेनियल विटोरी ने हाल ही में खुलासा किया है कि उनके साथ होलकर स्टेडियम के स्टाफ ने अच्छा बर्ताव नहीं किया. विटोरी का कहना है कि होल्कर स्टेडियम के स्टाफ ने उन्हें बीच पिच में अभ्यास करने से रोक दिया. जबकि भारतीय टीम पहले ही इस पिच पर अभ्यास कर चुकी थी.


बता दें कि भारतीय टीम ने तीसरे दिन ही इस मैच में जीत हासिल कर ली. ऐसे में दोनों टीमें अगले टेस्ट मैच के लिए कोलकाता रवाना होने से पहले यही रुकी हुई है. दोनों टीमें 19 नवंबर को कोलकाता के लिए रवाना होंगी. तब तक दोनों टीमें इंदौर के होल्कर स्टेडियम में अभ्यास कर रही हैं. लेकिन डेनियल विटोरी ने होल्कर स्टेडियम के स्टाफ पर पक्षपात का आरोप लगाया है.


डेनियल विटोरी का कहना है कि होल्कर स्टेडियम के स्टाफ ने हमारे साथ गलत व्यवहार किया. हमें मुख्य पिच पर अभ्यास करने से मना कर दिया. जबकि भारतीय टीम पहले ही इस पिच पर अभ्यास कर रही थी. चूंकि कोलकाता के ईडन गार्डन की पिच पर भी इंदौर की पिच की तरह है. इसी वजह से हम इस पिच पर अभ्यास करना चाहते थे. लेकिन हमें अभ्यास करने से रोक दिया गया, जिसके बाद हमने दूसरी पिच पर अभ्यास किया.


इस बात पर डेनियल विटोरी ने नाराजगी जाहिर की. डेनियल विटोरी ने होल्कर स्टेडियम के स्टाफ को आईसीसी के हकों में समानता वाले नियम को लेकर आगाह किया. हालांकि उन्होंने यह भी कहा कि मैच खत्म हो चुका है तो ऐसे में आईसीसी इसमें दखलअंदाजी नहीं कर सकता. इसी वजह से बांग्लादेश की टीम को उनकी बात माननी पड़ी और ग्राउंड स्टाफ के फैसले को स्वीकार करना पड़ा.