आखिरकार बांग्लादेश की टीम को T20 क्रिकेट में भारत के विरुद्ध पहली जीत नसीब हुई। रविवार के दिन दिल्ली के अरुण जेटली स्टेडियम में वायु प्रदूषण के बाद भी मैच खेला गया। बांग्लादेश की टीम ने टॉस जीतकर भारतीय टीम को पहले बल्लेबाजी करने का आमंत्रण दिया। भारतीय टीम की बल्लेबाजी बहुत ही खराब रही। भारतीय बल्लेबाजों ने महज 148 रन बनाए।

खराब बल्लेबाजी के बाद गेंदबाजों का प्रदर्शन भी काफी निराशाजनक रहा। बांग्लादेश की टीम 19.3 ओवरों में 3 विकेट के नुकसान पर 153 रन बनाने में कामयाब रही। अंतिम ओवरों में गेंदबाज रन रोकने में नाकामयाब रहे। इस मुकाबले में यदुवेंद्र चहल ने काफी अच्छा प्रदर्शन किया। उन्होंने 4 ओवरों में 24 रन देकर एक विकेट चटकाया।


खराब प्रदर्शन करने वाले ऋषभ पंत को पहले टी20 मैच में मौका मिला। लेकिन उन्होंने एक बार फिर से हर किसी को निराश किया। खराब बल्लेबाजी के अलावा उनकी विकेटकीपिंग भी खराब रही। भारतीय टीम ने डीआरएस के 2 मौके गवाएं। इसी कारण भारतीय टीम को मैच में हार झेलनी पड़ी।


रोहित शर्मा से मैच समाप्ति के बाद डीआरएस के बारे में सवाल पूछा गया तो उन्होंने कहा कि मैं इस बात पर कुछ नहीं कहना चाहता। हमारी टीम से गलती जरूर हुई है। पहली गेंद मुश्फिकुर रहीम ने बैकफुट पर खेली। लेकिन हम यह सोच रहे थे कि गेंद लेग साइड से बाहर जा रही है। वहीं उन्होंने दूसरी गेंद  फ्रंट फुट पर खेली। हालांकि यह ध्यान नहीं रहा कि उनका कद छोटा है। आपको बता दें कि मुश्फिकुर रहीम की लंबाई 5 फीट 2 इंच है। अगर गेंद पैड के ऊपरी भाग पर लगती तो भी वो एलबीडब्ल्यू आउट होते।


ऋषभ पंत की वजह से भारतीय टीम को हार का सामना करना पड़ा। अगर ऋषभ पंत उस वक्त रोहित शर्मा को डीआरएस लेने पर मजबूर नहीं करते तो शायद मैच का नतीजा कुछ और हो सकता था। इसके अलावा 18वें ओवर में क्रुणाल पांड्या ने मुश्फिकुर रहीम का कैच छोड़ दिया। यह भी भारतीय टीम की हार की एक बड़ी वजह रही।