भारतीय टीम इस समय बहुत ही जबरदस्त फॉर्म में चल रही है. भारत का गेंदबाजी आक्रमण बहुत ही मजबूर है. गेंदबाजी आक्रमण की बदौलत भारतीय टीम किसी को भी शिकस्त देने में कामयाब हो सकती है. टेस्ट सीरीज शुरू होने से पहले बांग्लादेश के बल्लेबाज मोहम्मद मिथुन ने कहा कि 2 मैचों की सीरीज के दौरान उनके लिए सबसे बड़ा खतरा रविचंद्रन अश्विन और रविंद्र जडेजा की जोड़ी होने वाली है.


मोहम्मद शमी, उमेश यादव और इशांत शर्मा सीरीज के दौरान बहुत प्रभावित हो सकते हैं. लेकिन मोहम्मद मिथुन को अश्विन और जडेजा की जोड़ी से ज्यादा परेशानी होती दिख रही है. मोहम्मद मिथुन ने कहा- हम सभी उनके गेंदबाजी लाइन अप की मजबूती को जानते हैं. हम भारतीय स्पिनरों से निपटने के लिए काम कर रहे हैं. लेकिन उनके स्पिनर हमें मुसीबत में डाल सकते हैं.


मिथुन ने कहा- हम उनसे निपटने के लिए तकनीकी पहलुओं पर काम कर रहे हैं. हमें उम्मीद है कि बल्लेबाजी कोच नील मैकेंजी भारतीय स्पिनरों के विरुद्ध हमारी मदद करेंगे. नील मैकेंजी को स्पिनरों के विरुद्ध खेलने का अच्छा अनुभव है. आमतौर पर साउथ अफ्रीकी खिलाड़ी स्पिनरों के विरुद्ध कमजोर माने जाते हैं. लेकिन नील मैकेंजी स्पिनरों को बहुत अच्छे से खेलने में माहिर है.


नील मैकेंजी स्पिनरों के विरुद्ध बहुत अच्छे से बल्लेबाजी करते हैं. भारत के विरुद्ध नील मैकेंजी का टेस्ट औसत 60 से ज्यादा था. जबकि भारतीय सरजमीं पर उनका औसत 85 से ज्यादा का था. बांग्लादेशी खिलाड़ियों को उनसे बहुत उम्मीदें हैं. मोहम्मद मिथुन ने कहा कि हमें पता है कि यहां जीतना आसान नहीं होगा. इसके लिए हमें कड़ी मेहनत करनी होगी. भारत के पास जो पांच गेंदबाज हैं, हम उनको हल्के में नहीं ले सकते.