स्टीव स्मिथ और डेविड वॉर्नर ने एक मैच में बॉल से छेड़खानी की थी। यह दोनों खिलाड़ी बॉल टेंपरिंग के मामले में दोषी पाए गए और आईसीसी ने 1 साल के लिए प्रतिबंधित कर दिया। हाल ही में एक और खिलाड़ी बॉल टैंपरिंग के मामले में दोषी पाया गया है। अब इस खिलाड़ी पर बड़ी कार्रवाई हो सकती है।


हम बात कर रहे हैं पाकिस्तान क्रिकेट टीम के अनुभवी और बेहतरीन बल्लेबाज अहमद शहजाद की, जिनको पाकिस्तान का विराट कोहली कहा जाता है। इनकी खेलने की शैली बिल्कुल विराट कोहली की तरह है। अहमद शहजाद ने घरेलू टूर्नामेंट कायदे आजम ट्रॉफी के एक मैच में गेंद से छेड़खानी की। यह मैच सेंट्रल पंजाब एवं सिंध के बीच हुआ था। अहमद शहजाद पर लगा आरोप सिद्ध हो चुका है और उन पर बड़ी कार्रवाई की जा सकती है।


पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड यह सिद्ध कर चुका है कि अहमद शहजाद ने मैच में गेंद से छेड़खानी की थी। पीसीबी ने एक बयान जारी करते हुए बताया कि कुछ समय पहले फैसलाबाद के एक इकबाल स्टेडियम में सेंट्रल पंजाब और सिंध के बीच घरेलू मैच खेला गया था। सेंट्रल पंजाब के कैप्टन अहमद शहजाद ने बॉल से छेड़खानी की। जांच में यह पता चला है कि वह बॉल टेंपरिंग के दोषी हैं। उन पर कार्रवाई की जाएगी। जल्दी ही बड़ा फैसला लिया जा सकता है।

साल 2009 में अहमद शहजाद को पहला अंतरराष्ट्रीय मैच खेलने का मौका मिला था। खराब प्रदर्शन के चलते वह पाकिस्तान क्रिकेट टीम में नियमित जगह नहीं बना पाए। ऐसा पहली बार नहीं हुआ जब अहमद शहजाद मुश्किलों में घिरे हैं। अनुशासनहीनता के चलते ही वह पाकिस्तान की टीम में नियमित जगह नहीं बना सके। इससे पहले पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड ने अहमद शहजाद को 4 महीने के लिए प्रतिबंधित किया था क्योंकि उन्होंने डोपिंग नियमों का पालन नहीं किया था। वहीं जुलाई के महीने में प्रतिबंधित पदार्थ का सेवन करने के कारण उनको निलंबित किया गया।