December 2019

भारत में मौजूदा समय में कई खिलाड़ी हैं, जो भारतीय टीम में जगह पाने के इंतजार में है. लेकिन सभी खिलाड़ियों को जगह मिलना संभव नहीं है. कई बार ऐसा हुआ कि किसी दूसरे क्रिकेटर की वजह से किसी और क्रिकेटर का कैरियर बर्बाद हो गया. ऐसा ही कुछ संजू सैमसन के साथ भी हो सकता है. संजू सैमसन को कई सालों बाद भारतीय टीम में शामिल किया गया. लेकिन उन्हें एक भी मैच में नहीं खिलाया गया.


संजू सैमसन भारतीय टीम में अपनी जगह पक्की करने के लिए मौके की तलाश में है. वहीं दूसरी तरफ ऋषभ पंत लगातार खराब प्रदर्शन के बावजूद बार-बार टीम में जगह बनाने में कामयाब हो रहे हैं. पिछले कुछ मैचों में ऋषभ पंत का प्रदर्शन बहुत ही निराशाजनक रहा है. फिर भी यह समझ नहीं आता कि आखिर ऋषभ पंत को क्यों भारतीय टीम में जगह दी जा रही है.

सैमसन को किया जा रहा है नजरअंदाज 


सितंबर से लेकर अब तक ऋषभ पंत ने कुल 8 मैच खेले हैं जिसमें उन्होंने केवल 107 रन बनाए हैं. ऋषभ पंत दक्षिण अफ्रीका, बांग्लादेश और वेस्टइंडीज के विरुद्ध सीरीज का हिस्सा थे. इस दौरान ना तो वह बल्ले से कमाल दिखा पाए और उनकी विकेटकीपिंग में भी काफी खामियां देखने को मिली, जिस वजह से उनकी काफी आलोचना हुई. ऋषभ पंत के ऐसे प्रदर्शन के बावजूद संजू सैमसन को एक भी मौका नहीं दिया जा रहा है.


अगर ऐसा ही चलता रहा तो संजू सैमसन का करियर खतरे में पड़ जाएगा. संजू सैमसन को कम से कम एक मौका तो मिलना चाहिए, ताकि वह खुद को साबित कर सकें. संजू सैमसन ने विजय हजारे ट्रॉफी में केरल के लिए खेलते हुए एक मैच में दोहरा शतक लगाया था जिसके बाद से उनको भारतीय टीम में जगह देने की मांग उठने लगी. कांग्रेस नेता शशि थरूर ने भी संजू सैमसन को लेकर आवाज उठाई.

भारतीय टीम के चाइनामैन गेंदबाज कुलदीप यादव की फिरकी में बड़े-बड़े बल्लेबाज फंस जाते हैं. आज कुलदीप यादव अपना 25वां जन्मदिन मना रहे हैं. कुलदीप यादव ने महज 19 साल की उम्र में हैट्रिक लेकर तहलका मचा दिया था. कुलदीप यादव क्रिकेट के तीनों फॉर्मेट में 5 विकेट हासिल करने का कारनामा भी कर चुके हैं, जो अब तक कोई भी भारतीय स्पिनर नहीं कर पाया है.


कुलदीप यादव का जन्म 14 दिसंबर 1994 को कानपुर में हुआ था. कुलदीप यादव के अंडर-19 विश्व कप में बेहतरीन प्रदर्शन को देखते हुए भारतीय टीम में जगह दी गई थी. कुलदीप यादव ने 2017 में अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में डेब्यू किया और देखते ही देखते वह तीनों फॉर्मेट में भारतीय टीम का हिस्सा बन गए.

कुलदीप के नाम 2 हैट्रिक 


कुलदीप यादव अब तक दो बार हैट्रिक ले चुके हैं. कुलदीप यादव ने 2014 के अंडर-19 विश्व कप के दौरान स्कॉटलैंड के विरुद्ध मैच में हैट्रिक ली थी. जबकि उन्होंने एक बार भारतीय टीम की तरफ से खेलते हुए वनडे क्रिकेट में हैट्रिक ली है.

कुलदीप के नाम दर्ज है अनोखा रिकॉर्ड 


कुलदीप यादव क्रिकेट के तीनों फॉर्मेट में 5 विकेट लेने वाले भारत के दूसरे गेंदबाज और एकमात्र स्पिनर हैं. भुवनेश्वर कुमार भी तीनों फॉर्मेट में 5 विकेट हासिल करने का रिकॉर्ड बना चुके हैं. वहीं दक्षिण अफ्रीका के इमरान ताहिर और श्रीलंका के अजंता मेंडिस ने भी क्रिकेट के तीनों फॉर्मेट में 5 विकेट लेने का रिकॉर्ड बनाया है. कुलदीप यादव ऐसा कारनामा करने वाले विश्व के तीसरे गेंदबाज हैं.

भारतीय टीम वेस्टइंडीज को टी-20 सीरीज में 2-1 से हराने के बाद अब वनडे सीरीज की तैयारियों में जुट गई है. 15 दिसंबर को वनडे सीरीज का पहला मुकाबला चेन्नई के पीआर चिदंबरम स्टेडियम में खेला जाएगा. मैच से पहले भारतीय टीम के तेज गेंदबाज भुवनेश्वर कुमार चोटिल हो गए और वह सीरीज से बाहर हो गए. चयनकर्ताओं ने भुवनेश्वर कुमार की जगह वनडे सीरीज के लिए भारतीय टीम में शार्दुल ठाकुर को शामिल कर लिया है.


शार्दुल ठाकुर भारतीय टीम के लिए अब तक पांच वनडे मैच खेल चुके हैं. वहीं चोटिल शिखर धवन की जगह वनडे सीरीज के लिए टीम में मयंक अग्रवाल को शामिल किया गया है, जिनके वनडे क्रिकेट में डेब्यू करने की पूरी संभावना है. हालांकि ऐसा भी हो सकता है कि रोहित शर्मा के साथ ओपनिंग करने की जिम्मेदारी केएल राहुल को दी जा सकती है.


बीसीसीआई ने शनिवार को ट्वीट करके इस बात की जानकारी दी कि भुवनेश्वर कुमार में हर्निया के लक्षण फिर से उभरने लगे हैं. बीसीसीआई ने बताया कि अब एक विशेषज्ञ की राय ली जाएगी और उसके बाद ही फैसला किया जाएगा. भुवनेश्वर कुमार का चोटिल होना भारतीय टीम के लिए दूसरा झटका है, क्योंकि शिखर धवन पहले से ही चोटिल चल रहे हैं.


शिवम और मयंक को वनडे डेब्यू का इंतजार 

शिवम दुबे और मयंक अग्रवाल को वनडे टीम में शामिल किया गया है. दोनों ही खिलाड़ी अंतरराष्ट्रीय वनडे क्रिकेट में डेब्यू का इंतजार कर रहे हैं. शिवम दुबे ने हाल ही में वेस्टइंडीज के विरुद्ध दूसरे T-20 मैच में नंबर 3 पर आकर शानदार बल्लेबाजी की थी. इसी वजह से उन्हें वनडे टीम में भी जगह मिली है.

भारत की वनडे टीम

विराट कोहली  (कप्तान), रोहित शर्मा  (उपकप्तान), मयं‌क अग्रवाल, केएल राहुल, श्रेयस अय्यर, मनीष पांडे, ऋषभ पंत  (विकेटकीपर), शिवम दुबे, केदार जाधव, रवीन्द्र जडेजा, युजवेंद्र चहल, कुलदीप यादव, दीपक चाहर, मोहम्मद शमी, शार्दुल ठाकुर.

ऑस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड की टीमें पर्थ में टेस्ट सीरीज का पहला मुकाबला खेलने में व्यस्त हैं. पहले मैच के शुरुआती 2 दिनों में दोनों टीमों के 2 बड़े खिलाड़ी चोटिल हो गए हैं और मैच से बाहर हो गए. न्यूजीलैंड की टीम को दूसरे दिन उस समय झटका लगा, जब उनके तेज गेंदबाज लोकी फर्ग्यूसन चोटिल हो गए.


वहीं ऑस्ट्रेलिया की टीम के लिए तीसरे दिन बुरी खबर आई कि उनके तेज गेंदबाज जोश हेजलवुड चोटिल होने की वजह से मैच से बाहर हो गए. ऑस्ट्रेलिया की टीम मैच में मजबूत परिस्थिति में है. ऑस्ट्रेलिया की तरफ से पहली पारी में मार्नस लाबुशाने ने शतक लगाया. वहीं गेंदबाजी में मिशेल स्टार्क ने जबरदस्त प्रदर्शन किया और न्यूजीलैंड की टीम 166 रन पर ही धराशाई हो गई.

2 दिन में चोटिल हुए दो गेंदबाज 


पर्थ टेस्ट के पहले दिन न्यूजीलैंड के तेज गेंदबाज लोकी फर्ग्यूसन चोटिल हो गए, जिस वजह से वह दूसरे दिन गेंदबाज़ी करने नहीं आए. लोकी फर्ग्यूसन ने पहले दिन केवल 11 ओवर गेंदबाजी की. उनके दाएं काफ की मांसपेशियों में खिंचाव है. वहीं मैच के तीसरे दिन ऑस्ट्रेलियाई टीम के गेंदबाज जोश हेजलवुड चोटिल होकर मैदान से बाहर चले गए. वह दूसरे दिन केवल 8 गेंद फेंक पाए थे. ऐसी खबर है कि अब जोश हेजलवुड आगामी मैचों में भी नहीं खेल पाएंगे.


ऑस्ट्रेलियाई टीम ने पहली पारी के आधार पर न्यूजीलैंड के ऊपर 250 रनों की बढ़त बना ली है. हालांकि अभी भी न्यूजीलैंड की टीम के पास मैच में वापसी करने का मौका है. तेज गेंदबाज मिशेल स्टार्क ने 92 रन देकर 5 अहम विकेट हासिल किए. नाथन लियोन ने 2 जबकि हेजलवुड और पैट कमिंस ने एक-एक विकेट चटकाए.

विराट कोहली और रोहित शर्मा भारतीय टीम के 2 बेहतरीन बल्लेबाजों में से एक हैं. जब यह दोनों खिलाड़ी मैदान पर फॉर्म में होते हैं तो विपक्षी टीमों के गेंदबाजों के लिए मुसीबत बन जाते हैं. वेस्टइंडीज के विरुद्ध तीसरे T-20 मैच में दोनों खिलाड़ियों का बल्ला जमकर चला. इन दोनों ही खिलाड़ियों ने ताबड़तोड़ बल्लेबाजी की और विपक्षी टीम के गेंदबाजों के होश उड़ा दिए.


मौजूदा समय में दोनों ही बल्लेबाज अंतरराष्ट्रीय टी-20 में रन बनाने के मामले में एक दूसरे की बराबरी पर हैं. पिछले काफी समय से इन दोनों खिलाड़ियों के बीच टी-20 में रन बनाने को लेकर अनोखी जंग चल रही है. रोहित शर्मा और विराट कोहली रन बनाने के मामले में भले ही बराबरी पर हों. लेकिन कुछ मामलों में विराट कोहली रोहित से आगे हैं तो वहीं कुछ मामलों में रोहित विराट पर हावी नजर आते हैं.


रोहित शर्मा के अंतरराष्ट्रीय T-20 में 2633 रन है, जबकि विराट कोहली के 2633 रन है. हालांकि विराट कोहली ने 70 पारियों में यह कारनामा किया है, जबकि रोहित शर्मा ने 96 पारियों में इतने रन बनाए हैं. अगर अंतरराष्ट्रीय टी-20 में शतकों की बात करें तो रोहित इस मामले में विराट से कई गुना आगे हैं. रोहित अब तक चार T-20 शतक लगा चुके हैं जबकि विराट एक भी शतक नहीं लगा सके हैं.


वहीं अर्धशतकों के मामले में विराट कोहली रोहित शर्मा से आगे हैं. विराट कोहली ने 24 अर्धशतक लगाए हैं तो रोहित शर्मा ने केवल 19 ही अर्धशतक लगाए हैं. T-20 में सबसे ज्यादा छक्के लगाने के मामले में रोहित विराट से आगे हैं. रोहित ने 120 छक्के लगाए हैं जबकि विराट कोहली ने 71 छक्के लगाए हैं.

मुंबई की टीम ने बड़ौदा को 309 रनों से करारी शिकस्त देकर रणजी ट्रॉफी में जीत के साथ आगाज किया है. रिलायंस स्टेडियम में खेले जा रहे इस मैच के अंतिम दिन गुरुवार को मैदान पर कुछ ऐसा देखने को मिला जो सबके लिए हैरान करने वाला था. इस मैच में दो भारतीय खिलाड़ी आपस में भिड़ गए और एक-दूसरे से बहस करने लगे. फिर साथी खिलाड़ियों ने बीच-बचाव करवाया.


बड़ौदा की दूसरी पारी के दौरान अनुभवी बल्लेबाज यूसुफ पठान जब आउट हो गए तो वह अजिंक्य रहाणे के साथ भिड़ गए.दोनों के बीच मैदान पर काफी देर बहस होती रही. इसके बाद मुंबई के खिलाड़ियों और अंपायर ने उन्हें अलग किया. यह घटना बड़ौदा की पारी के 48वें ओवर के दौरान की है. जब अंपायर ने यूसुफ पठान को कैच आउट दिया. लेकिन यूसुफ पठान अंपायर के निर्णय से सहमत नहीं थे और वह क्रीज पर ही खड़े रहे.


यूसुफ पठान क्रीज छोड़कर नहीं जाना चाहते थे. तभी अजिंक्य रहाणे उनके पास पहुंचे और उनसे बात करने लगे. दोनों खिलाड़ियों के बीच काफी देर तक बहस होती रही. इसके बाद मुंबई के खिलाड़ी अजिंक्य रहाणे को यूसुफ पठान से दूर ले गए और फिर यूसुफ पठान पवेलियन लौट गए. हालांकि यूसुफ पठान पवेलियन लौटते हुए काफी नाराज दिख रहे थे.


मुंबई की टीम ने बड़ौदा के विरुद्ध जीत हासिल करने के बाद 6 अंक प्राप्त कर लिए हैं. जबकि बड़ौदा की टीम को एक भी अंक नहीं मिला है. मुंबई और बड़ौदा के अलावा रणजी ट्रॉफी में कर्नाटक और तमिलनाडु के बीच भी दिलचस्प मुकाबला देखने को मिला. कर्नाटक ने तमिलनाडु को 26 रनों से शिकस्त दी.

भारतीय टीम के ओपनर बल्लेबाज रोहित शर्मा की आज शादी की चौथी सालगिरह है. रोहित और रितिका ने शादी से पहले कई सालों तक एक-दूसरे को डेट किया और 13 दिसंबर 2015 को दोनों शादी के बंधन में बंध गए. रोहित शर्मा और रितिका की शादी में कई बड़ी हस्तियां शामिल हुई. दोनों की प्रेम कहानी बहुत ही दिलचस्प है.


रोहित शर्मा और रितिका ने शादी से पहले 6 सालों तक एक-दूसरे को डेट किया था. रितिका स्पोर्ट्स और इवेंट मैनेजमेंट कंपनी में मैनेजर भी रह चुकी हैं. तभी से दोनों के बीच दोस्ती शुरू हुई. रोहित और रितिका की मुलाकात पूर्व ऑलराउंडर खिलाड़ी युवराज सिंह के जरिए हुई थी. रोहित पहली ही मुलाकात में रितिका के दीवाने हो गए.


रोहित ने रितिका को बीच स्टेडियम में सबके सामने प्रपोज किया था. रोहित ने उसी स्टेडियम में रितिका को प्रपोज किया, जहां उन्होंने क्रिकेट खेलना सीखा था. रोहित और रितिका के रिश्ते की खबरें जब सामने आई तो सब हैरान रह गए. रितिका एक्टर सोहेल खान की वाइफ सीमा सचदेव खान की बहन हैं. इस लिहाज से रितिका सोहेल खान की साली और रोहित शर्मा उनके साढू भाई हैं.


फैमिली फंक्शन में अक्सर पूरा परिवार एक साथ नजर आ जाता है. रोहित और रितिका सोशल मीडिया पर भी काफी सक्रिय रहते हैं और अक्सर अपनी तस्वीरें भी शेयर करते रहते हैं. रितिका की फैन फॉलोइंग भी सोशल मीडिया पर बहुत ज्यादा है. रोहित और रितिका की एक बेटी भी है, जिसका नाम समायरा है.

सौरव गांगुली बीसीसीआई के नए अध्यक्ष बने हैं और यह पूरा कार्यक्रम बेहद नाटकीय रहा. शुरुआत में बृजेश पटेल बीसीसीआई अध्यक्ष बनने की दौड़ में सबसे आगे थे. लेकिन अंतिम समय में सौरव गांगुली का नाम सामने आया और वह बीसीसीआई के अध्यक्ष बन गए. सौरव गांगुली के बीसीसीआई अध्यक्ष बनने को लेकर एक शख्स ने बड़ा खुलासा किया है.


समिति के सुधारों की वजह से ही मिला अध्यक्ष पद 

सौरव गांगुली की अगुवाई में बीसीसीआई की नजर सुप्रीम कोर्ट द्वारा नियुक्त लोढ़ा समिति की सिफारिशों को बदलने पर है. हालांकि लोढ़ा समिति के अध्यक्ष जस्टिस आरएम लोढ़ा ने इसे दुर्भाग्यपूर्ण बताया. साथ ही उन्होंने सौरव गांगुली के बीसीसीआई अध्यक्ष बनने में समिति की भी अहम भूमिका बताई.


जस्टिस लोढ़ा ने कहा- यह काफी दुर्भाग्यपूर्ण है. मैंने सोचा एक क्रिकेटर इस बात को जरूर समझेगा कि इस पद पर उनकी मौजूदगी भी समिति के सुधारों की वजह से ही है. जस्टिस लोढ़ा ने कहा- अगर पुराना सिस्टम जारी रहता तो शायद कोई भी क्रिकेटर बीसीसीआई का अध्यक्ष बनने के बारे में सपने में भी नहीं सोच सकता था.


क्रिकेट प्रशासन में जिस तरह की राजनीति चल रही थी, मुझे नहीं लगता कि कोई भी खिलाड़ी इस पद पर पहुंचने में कामयाब हो सकता था. लेकिन यह सब हमारे सुधारों की वजह से ही संभव हो पाया. सौरव गांगुली बीसीसीआई में एक से ज्यादा पद नहीं संभाल सकते, क्योंकि भारतीय क्रिकेट में हितों के टकराव का मुद्दा बहुत अहम है.


भारतीय टीम T-20 क्रिकेट में जब भी पहले बल्लेबाजी करती है तो उसकी जीत की संभावनाएं बहुत कम हो जाती है. लेकिन मुंबई T-20 में भारत ने पहले बल्लेबाजी की और भारतीय टीम अलग ही अंदाज में नजर आई. पहले बल्लेबाजी करते हुए भारतीय टीम ने शानदार प्रदर्शन किया और 240 रन का विशाल स्कोर खड़ा किया. रोहित शर्मा और केएल राहुल ने भारतीय टीम को अच्छी शुरुआत दिलाई. दोनों ही बल्लेबाजों ने ताबड़तोड़ बल्लेबाजी की.

कोई खिलाड़ी व्यक्तिगत उपलब्धियों के लिए नहीं खेला 


भारतीय टीम ने 67 रनों से मैच जीत लिया और सीरीज भी 2-1 से अपने नाम कर ली. भारतीय टीम की जीत के बाद बीसीसीआई अध्यक्ष सौरव गांगुली ने अपनी प्रतिक्रिया दी. सौरव गांगुली ने कहा कि सीरीज में सबसे अच्छी बात यह रही कि कोई भी खिलाड़ी व्यक्तिगत उपलब्धियां हासिल करने के लिए नहीं खेला. हर खिलाड़ी के लिए सबसे अहम भारतीय टीम की जीत थी. कप्तान विराट कोहली ने भी मैच के बाद कहा कि मैं हमेशा से ही पहले बल्लेबाजी करते हुए जीत हासिल करना चाहता था.

जीत से नहीं हुआ कोई आश्चर्य 


सौरव गांगुली ने भारतीय टीम की जीत के बाद कहा कि बहुत कम लोग होंगे जो यह उम्मीद कर रहे होंगे कि भारत यह सीरीज हार जाएगा. जीत से मुझे कोई आश्चर्य नहीं हुआ. मगर जो सबसे अच्छी बात रही, वो बल्लेबाजों का निर्भीक रवैया रहा. बल्लेबाज बैखोफ होकर खेले. कोई भी खिलाड़ी टीम में अपनी जगह पक्की करने के लिए नहीं खेल रहा है. बल्कि सभी जीतने के लिए खेल रहे हैं. शाबाश टीम इंडिया. कप्तान विराट कोहली ने जीत के बाद कहा- हम पहले बल्लेबाजी करते हुए जीतने को लेकर काफी बातें कर चुके हैं. यह सब मैदान पर जाकर योजना को अच्छी तरह लागू करने की बात है.


युवराज सिंह एक असली फाइटर हैं. आक्रामक बल्लेबाजी और शानदार फील्डिंग के लिए पहचान बनाने वाले युवराज ने कैंसर जैसी बीमारी को मात दी और फिर से मैदान में वापसी की. युवराज सिंह का आज जन्मदिन है. वह 38 साल के हो गए हैं. युवराज सिंह ने अपने क्रिकेट करियर में कई बेहतरीन पारियां खेली. उनके जन्मदिन के खास मौके पर हम आपको उनके द्वारा खेली गई पांच ऐसी पारियों के बारे में बताने वाले हैं जो उनकी पहचान है.

84 रन बनाम ऑस्ट्रेलिया (आईसीसी नॉकआउट ट्रॉफी, साल 2000)

युवराज सिंह ने 18 साल की उम्र में पहली अंतर्राष्ट्रीय पारी में ही धमाल मचा दिया था. 45 रन के निजी स्कोर पर उन्हें जीवनदान मिला. इसके बाद उन्होंने 84 रन की पारी खेल दी. भारतीय टीम का स्कोर 265 रन तक पहुंच गया. लेकिन भारत दुर्भाग्यवश यह मैच हार गया.

69 रन बनाम इंग्लैंड (नेटवेस्ट फाइनल, साल 2002)

भारतीय टीम को इस मैच में 325 रनों के लक्ष्य का पीछा करना था और दिग्गज खिलाड़ी पवेलियन लौट चुके थे. तब युवराज सिंह ने मोहम्मद कैफ के साथ मिलकर 121 रन की साझेदारी की थी. इस मैच में भारतीय टीम की जीत की नींव रखकर युवराज सिंह आउट हो गए.

139 रन बनाम ऑस्ट्रेलिया (सिडनी, साल 2004)


वीबी सीरीज के सातवें मुकाबले में युवराज सिंह ने धमाल मचा दिया था. उन्होंने 139 रन की पारी खेली थी. इस मैच के 49वें ओवर में युवराज सिंह ने 22 रन ठोके थे. यह पारी युवराज की विदेशी धरती पर सबसे बेहतरीन पारी रही.

107 रन बनाम पाकिस्तान (कराची, साल 2006)

युवराज सिंह ने पाकिस्तान के विरुद्ध 2006 में खेले गए एक मैच में 107 रन की शानदार पारी खेली थी. इस पारी की बदौलत भारतीय टीम मैच जीतने में कामयाब रही.

57 रन बनाम ऑस्ट्रेलिया (अहमदाबाद, साल 2011)


रिकी पोंटिंग ने अपने करियर के आखिरी मैच में शतक लगाया था और उनकी टीम ने 260 रन बनाए थे. लेकिन इस मैच में युवराज सिंह ने बल्ले से धमाल मचाया ही. साथ ही उन्होंने गेंद से भी जलवा बिखेरा. युवराज ने 10 ओवर में 44 रन देकर दो विकेट लिए और भारत यह मैच जीत गया.

भारतीय टीम के ओपनर बल्लेबाज रोहित शर्मा ने मुंबई T-20 में शानदार पारी खेली. इस मैच के दौरान रोहित शर्मा की पत्नी रितिका सजदेह अपनी बेटी समायरा के साथ स्टेडियम में मौजूद रहे. मैच शुरू होने से ठीक पहले रोहित शर्मा ड्रेसिंग रूम से बाहर निकले और वह पास ही में बने फैमिली बॉक्स में बैठी अपनी बेटी के साथ बातचीत करने लगे. रोहित ने इसके बाद मैदान में जाकर अपने फैंस का मनोरंजन किया.


रोहित ने वेस्टइंडीज के विरुद्ध 71 रन की तूफानी पारी खेली. लेकिन इससे पहले रोहित शर्मा पैड पहनकर हाथों में ग्लव्स और हेलमेट लेकर थोड़ी देर के लिए ड्रेसिंग रूम से बाहर आए, जहां उनके कुछ फैंस खड़े थे. लेकिन रोहित ने कुछ समय अपनी बेटी समायरा के साथ बिताने का निर्णय किया. रोहित ने अपनी बेटी समायरा के साथ इशारों ही इशारों में बात की और कुछ अजीबोगरीब हरकतें भी की, जो हर पिता अपनी बच्ची के साथ करता है.


सोशल मीडिया पर वायरल हुआ वीडियो 

सोशल मीडिया पर रोहित शर्मा का यह वीडियो मुंबई इंडियंस ने अपने ऑफिशियल अकाउंट पर शेयर किया. इस वीडियो के साथ मुंबई इंडियंस ने लिखा- अनुमान लगाइए कौन है जो स्टैंड्स में रोहित शर्मा से बात कर रहा है. हिंट यह है कि वह एक बेबी है. रोहित शर्मा की हरकतों को देखकर साफ पता चल रहा है कि वह किसी और से नहीं बल्कि अपनी बेटी से ही बात कर रहे हैं.


रोहित शर्मा की पत्नी रितिका काफी लंबे समय बाद स्टेडियम में मैच देखते हुए नजर आईं. रोहित ने उन्हें निराश भी नहीं किया. पिछले दो मैचों में रोहित शर्मा कोई बड़ी पारी नहीं खेल पाए थे. लेकिन इस बार रोहित ने 34 गेंदों में 71 रन की तूफानी पारी खेली. इस पारी में उन्होंने 6 चौके और 5 छक्के भी लगाए.


भारत और वेस्टइंडीज के बीच बुधवार को T-20 सीरीज का अंतिम और निर्णायक मुकाबला खेला गया जिसमें भारतीय टीम का प्रदर्शन बहुत ही जबरदस्त रहा और भारत ने यह मैच 67 रनों से जीत लिया. इस मैच में भारतीय टीम की तरफ से लोकेश राहुल, रोहित शर्मा और विराट कोहली का प्रदर्शन बहुत ही जबरदस्त रहा. वहीं वेस्टइंडीज का कोई भी बल्लेबाज बड़ी पारी खेलने में कामयाब नहीं हो पाया. भारत ने मैच जीतकर सीरीज 2-1 से अपने नाम कर ली.

रोहित-विराट बराबरी पर 


रोहित शर्मा और विराट कोहली अंतरराष्ट्रीय टी-20 क्रिकेट में रनों के मामले में बराबरी पर आ गए हैं. इस मैच से पहले विराट कोहली रोहित शर्मा के 1 रन आगे थे. लेकिन इस मैच में रोहित शर्मा ने 71 रन बनाए. जबकि विराट कोहली के बल्ले से नाबाद 70 रन की पारी निकली. दोनों खिलाड़ियों के अंतरराष्ट्रीय टी-20 क्रिकेट में 2663 हो गए हैं. हालांकि रोहित शर्मा ने 96 पारियों में यह रन बनाए हैं. जबकि विराट कोहली ने 70 पारियों में यह कारनामा किया है. वहीं अंतरराष्ट्रीय T-20 में सबसे ज्यादा रन बनाने वाले बल्लेबाजों की सूची में मार्टिन गुप्टिल तीसरे नंबर पर हैं, जिन्होंने 2436 रन बनाए हैं.

इतिहास में पहली बार हुआ ऐसा


क्रिकेट के 142 साल के इतिहास में पहली बार ऐसा संयोग बना है जब दो बल्लेबाज रन बनाने के मामले में संयुक्त रूप से शीर्ष पर हैं. इसी वजह से यह रिकॉर्ड और भी ज्यादा खास हो गया. किसी भी फॉर्मेट में इससे पहले ऐसा नहीं हुआ था. रोहित शर्मा और विराट कोहली के बीच एक दूसरे से आगे निकलने की जंग काफी समय से चल रही है. कभी विराट रोहित को पीछे छोड़ देते हैं तो कभी रोहित आगे निकल जाते हैं.

भारतीय टीम वेस्टइंडीज के साथ T-20 सीरीज खेलने में व्यस्त है. सीरीज का आखिरी मुकाबला मुंबई के वानखेड़े स्टेडियम में खेला जाना है. भारतीय खिलाड़ी अपना तनाव दूर करने के लिए सीरीज के दौरान हंसी मजाक करते रहते हैं. हाल ही में बीसीसीआई ने सोशल मीडिया पर एक वीडियो शेयर किया जिसमें रोहित शर्मा, कुलदीप यादव और युज़वेंद्र चहल के साथ बातचीत करते हुए नजर आ रहे हैं. इस दौरान रोहित शर्मा ने इन खिलाड़ियों से कई सवाल पूछे जिनका इन्होंने मजाक मजेदार जवाब दिया.


इस खिलाड़ी को बताया सबसे खराब डांसर 

रोहित शर्मा ने दोनों खिलाड़ियों से पूछा कि भारतीय टीम का कौन-सा खिलाड़ी सबसे खराब डांस करता है तो युजवेंद्र चहल ने ऑलराउंडर शिवम दुबे का नाम लिया. कुलदीप यादव ने भी शिवम दुबे का नाम लिया. उन्होंने कहा- मैंने अभी इंडिया ए के साथ टूर किया था, जिसमें शिवम दुबे भी शामिल थे. इस दौरान मैंने उनको डांस करते हुए देखा और मैं कह सकता हूं कि सच में डांस के मामले में वह थोड़े हल्के पड़ेंगे.


इसके बाद रोहित शर्मा ने पूछा कि कौन सा भारतीय खिलाड़ी सबसे खराब हेयरस्टाइल रखता है तो चहल ने मोहम्मद शमी का नाम लिया. कुलदीप यादव ने भारतीय गेंदबाजी कोच भरत अरुण की हेयर स्टाइल को सबसे खराब बताया. रोहित शर्मा ने यह भी पूछा कि उनके लिए किस खिलाड़ी को यह सामने गेंदबाजी करना सबसे मुश्किल है.


चहल ने कहा कि आईपीएल के दौरान रोहित को गेंदबाजी करना मुश्किल है तो वहीं कुलदीप यादव ने सूर्यकुमार यादव का नाम लिया. रोहित ने भी कुलदीप यादव की बात से समर्थन जताते हुए कहा कि सूर्यकुमार बहुत ही अच्छी फॉर्म में चल रहे हैं. ऐसे में उनको गेंदबाजी कराना मुश्किल हो सकता है.

मुरली विजय को अंपायर से विजय करना भारी पड़ गया. रणजी ट्रॉफी में तमिलनाडु और कर्नाटक के बीच खेले जा रहे मैच के पहले दिन मुरली विजय ने अंपायर के फैसले से असहमति जताई और उनसे बहस की जिस वजह से मुरली विजय के ऊपर मैच फीस का 10% जुर्माना लगा है. यह घटना टी ब्रेक से पहले रविचंद्रन अश्विन के ओवर के दौरान की है.


अश्विन की गेंद पर पवन देशपांडे के विरुद्ध विकेट के पीछे कैच की अपील की गई थी. अंपायर ने यह अपील ठुकरा दी. इस फैसले से मुरली विजय असहमत दिखे. मुरली विजय अंपायर से बहस करते रहे. दूसरे अंपायर ने उनको शांत करने की कोशिश भी की. इस दौरान अंपायर ने मुरली विजय का हाथ पकड़ा हुआ था.

तमिलनाडु टीम मैनेजमेंट ने लगाया जुर्माना 


इस घटना के बाद तमिलनाडु टीम मैनेजमेंट ने मुरली विजय के ऊपर जुर्माना लगाने का निर्णय किया. कर्नाटक की टीम दूसरे दिन 336 रन बनाकर ढेर हो गई. दूसरे दिन का खेल खत्म होने तक तमिलनाडु की टीम ने 4 विकेट के नुकसान पर 165 रन का स्कोर बना लिया. कर्नाटक की तरफ से सबसे ज्यादा रन देवदत्त पडीक्कल ने बनाए.


देवदत्त पडीक्कल ने 78 रनों का योगदान दिया. पवन देशपांडे 65 रन बनाकर आउट हो गए. जबकि कृष्‍णाप्पा गौतम ने 51 रन का योगदान दिया. रविचंद्रन अश्विन ने इस मैच में 79 रन देकर चार विकेट झटक लिए. तमिलनाडु की टीम पारी का शुरुआत उम्मीद के हिसाब से नहीं कर सकी. अभिनव मुकुंद ने 47 रन बनाए. जबकि मुरली विजय ने 32 रन और बाबा अपराजित ने 37 रन की पारी खेली. विजय शंकर केवल 12 रन ही बना पाए. जबकि दिनेश कार्तिक 23 और नारायण जगदीशन 6 रन बनाकर खेल रहे हैं.


भारतीय टीम के कप्तान विराट कोहली की गिनती विश्व के सबसे फिट खिलाड़ियों में होती है. वह सभी के लिए प्रेरणा का स्रोत है. हर कोई उनकी फिटनेस का राज जानना चाहता है. विराट कोहली की फिटनेस को देखकर ही भारतीय टीम के अन्य खिलाड़ी भी फिटनेस पर पूरा ध्यान देते हैं. हालांकि विराट ने कभी इस बात का खुलासा नहीं किया कि उनके अंदर फिटनेस के प्रति इतना जुनून कहां से और कैसे आया. लेकिन हाल ही में पूर्व ट्रेनर शंकर वासु ने बताया कि आखिर विराट को फिटनेस के लिए इतना जुनून कहां से मिला.


विराट कोहली बिना किसी परेशानी के क्रिकेट के तीनों फॉर्मेट में लगातार अच्छा प्रदर्शन कर रहे हैं. टाइम्स नाउ की रिपोर्ट के मुताबिक, पूर्व भारतीय ट्रेनर शंकर वासु ने बताया कि विराट कोहली को फिटनेस की प्रेरणा के प्रेरणा दीपिका पल्लीकल से मिली. दीपिका पल्लीकल स्क्वैश खिलाड़ी है और भारतीय टीम के विकेटकीपर बल्लेबाज दिनेश कार्तिक की पत्नी भी हैं.

पल्लीकल को ट्रेनिंग करते देख विराट ने पूछा- हम ऐसा क्यों नहीं कर सकते 


खबर के मुताबिक पूर्व ट्रेनर शंकर बासु ने बताया कि शुरुआती 2-3 साल हम आईपीएल के दौरान गर्मियों में ही ट्रेनिंग करते थे. एक बार विराट ने दीपिका पल्लीकल को ट्रेनिंग करते हुए देखा और वह उनसे बहुत प्रेरित हुए. दीपिका की फिटनेस देखकर विराट आश्चर्यचकित थे. उन्होंने पूछा कि क्या हम ऐसी ट्रेनिंग कर सकते हैं.


शंकर बासु ने बताया कि विराट खुद को और बेहतर बनाने का प्रयास कभी नहीं छोड़ते. वह हर रोज खुद को बेहतर बनाने की कोशिश करते हैं. मैं हमेशा उनसे यही कहता हूं कि बोल्ट और नोवाक जोकोविच उनके आदर्श होने चाहिए और उन्हें इस मामले में अभी भी काफी लंबा सफर तय करना है.

भारतीय टीम के युवा बल्लेबाज पृथ्वी शॉ रणजी ट्रॉफी में मुंबई की टीम के लिए खेल रहे हैं और उन्होंने तूफानी दोहरा शतक लगा दिया है. बड़ौदा और मुंबई के बीच बड़ोदरा के रिलायंस स्टेडियम में खेले जा रहे मैच में पृथ्वी शॉ ने अपनी फर्स्ट क्लास करियर का पहला दोहरा शतक लगा दिया है.


पृथ्वी शॉ ने केवल 175 गेंदों में दोहरा शतक पूरा किया. पृथ्वी शॉ 202 रन बनाकर आउट हो गए. इस पारी में उन्होंने 19 चौके और 7 छक्के भी लगाए. पृथ्वी शॉ ने 112.85 के स्ट्राइक रेट से बल्लेबाजी की. पहली पारी में भी पृथ्वी शॉ ने अच्छा प्रदर्शन किया था.

पहली पारी में लगाया था अर्धशतक 


पृथ्वी शॉ ने बड़ौदा के विरुद्ध पहली पारी में 62 गेंदों में 66 रन बनाए थे. इस पारी में उन्होंने 12 चौके और एक छक्का भी लगाया था. पृथ्वी शॉ की पारी की बदौलत मुंबई की टीम ने बड़ौदा के सामने काफी अच्छा स्कोर खड़ा कर लिया है. बता दें कि पृथ्वी शॉ ने पिछले साल अक्टूबर में वेस्टइंडीज के विरुद्ध खेले गए टेस्ट मैच से अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में डेब्यू किया था. अपने डेब्यू टेस्ट मैच में पृथ्वी शॉ ने शानदार शतक लगाया था.


पृथ्वी शॉ को ऑस्ट्रेलिया दौरे पर भी भारतीय टीम में जगह मिली थी. लेकिन चोटिल होने की वजह से वह टीम से बाहर हो गए. पृथ्वी शॉ के ऊपर बीसीसीआई ने 8 महीने का बैन भी लगाया. हालाकि पृथ्वी शॉ ने शानदार वापसी की. पृथ्वी शॉ ने दोनों पारियों में अच्छा प्रदर्शन कर साबित कर दिया है कि वह भारतीय टीम का भविष्य है. उनके लाजवाब प्रदर्शन को देखते हुए लगता है कि जल्द ही उन्हें भारतीय टीम में जगह दी जा सकती है.

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget