पिता की मर्जी के खिलाफ जाकर बना था क्रिकेटर, अब विश्व कप में करेगा भारत की कप्तानी

अगले साल दक्षिण अफ्रीका में अंडर-19 विश्व कप होने वाला है, जिसके लिए 15 सदस्यीय भारतीय टीम घोषित हो गई है. इस टीम का कप्तान प्रियम गर्ग को बनाया गया है. इस टीम में कई ऐसे बल्लेबाजों और गेंदबाजों को जगह दी गई है जो आगे चलकर भारतीय टीम का भविष्य बन सकते हैं. ध्रुव जुरैल को अंडर-19 टीम का उप कप्तान नियुक्त किया गया है. इस टीम में तिलक वर्मा, दिव्यांश सक्सेना, शाश्वत रावत, दिव्यांश जोशी, शुभांग हेगड़े, रवि बिश्नोई, आकाश सिंह, कार्तिक त्यागी, अथर्व अकोलेकर, कुमार कुशाग्र, सुशांत मिश्रा और विद्याधर पाटिल खिलाड़ी शामिल है.

चार बार अंडर-19 विश्व कप विजेता बना है भारत 


भारत ने 4 बार अंडर-19 विश्व कप का खिताब जीता है. 2018 में पृथ्वी शॉ की कप्तानी में भारत अंडर-19 विश्व कप जीता था. बता दें कि अगले साल होने वाले अंडर-19 विश्व कप का आगाज 17 जनवरी को होगा और फाइनल मुकाबला 9 फरवरी को खेला जाएगा. इस टूर्नामेंट में कुल 48 मैच खेले जाएंगे.

कौन है प्रियम गर्ग 


प्रियम गर्ग यूपी के मेरठ के रहने वाले हैं जो तेजी से सफलता हासिल करते जा रहे हैं. प्रियम गर्ग ने सचिन तेंदुलकर की बल्लेबाजी को देखकर ही 7 साल की उम्र में क्रिकेटर बनने का निर्णय किया था. हालांकि उनके पिता बहुत गरीब थे जिस वजह से वह प्रियम क्रिकेट खेलने से मना करते थे. लेकिन प्रियम गर्ग ने क्रिकेट खेलना जारी रखा.


इसके बाद उनके मामा ने उन्हें मेरठ के विक्टोरिया स्टेडियम में क्रिकेट की कोचिंग दिलाई और उनकी जिंदगी बदल गई. प्रियम गर्ग का घर विक्टोरिया स्टेडियम से बहुत दूर था और वह बस में लटक कर सफर करते थे. इस वजह से कई बार वह बस से नीचे गिरने से भी बचे. लेकिन उनकी मेहनत रंग लाई और 14 साल की उम्र में उन्हें यूपी की अंडर-14 टीम में जगह मिल गई.

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget