भारत और न्यूजीलैंड के बीच टी-20 सीरीज खेली जा रही है. T-20 सीरीज के तीसरे और चौथे मुकाबले का नतीजा सुपर ओवर के जरिए निकला. दोनों मैचों में सुपर ओवर खेला गया और भारतीय टीम ने जीत दर्ज की. आईसीसी के नियम के मुताबिक जब भी मैच टाई हो जाता है तो उसका नतीजा निकालने के लिए सुपर ओवर खेला जाता है.


अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट इतिहास में पहली बार ऐसा हुआ जब लगातार दो T-20 मैच टाई हुए और सुपर ओवर खेला गया. लेकिन क्या आप जानते हैं कि सुपर ओवर में बल्लेबाजों द्वारा जो रन बनाए जाते हैं वह उनके खाते में जुड़ते हैं या नहीं. दरअसल जब भी दोनों टीमें बराबर स्कोर बनाती है तो मैच टाई हो जाता ,है जिसका नतीजा फिर सुपर ओवर से निकाला जाता है.


लेकिन आपको बता दें कि सुपर ओवर में बल्लेबाज जो रन बनाते हैं वह उनके खाते में नहीं जोड़े जाते हैं. यानी पिछले दो टी-20 मैचों में भारत के बल्लेबाजों ने जो भी रन सुपर ओवर में बनाए, वह उनके खाते में नहीं जुड़ेंगे और ना ही गेंदबाज द्वारा लिए गए विकेट उनके खाते में जुड़ते हैं.

यह है आईसीसी का नियम 


आईसीसी के नियम के मुताबिक, अगर कोई T-20 मैच टाई हो जाता है तो ऐसी स्थिति में दोनों टीमों को एक-एक सुपर ओवर खेलना होता है. सुपर ओवर में जो भी टीम ज्यादा रन बनाती है, वह विजेता बन जाती है. लेकिन इस दौरान बल्लेबाज द्वारा बनाए गए रन और गेंदबाज द्वारा लिए गए विकेट उनके खाते में नहीं जुड़ते हैं. सुपर ओवर केवल मैच का नतीजा निकालने के लिए आयोजित किया जाता है. अगर सुपर ओवर टाई हो जाता है तो तब तक सुपर ओवर खेला जाता है, जब तक मैच का नतीजा ना निकल आए.