बांग्लादेश प्रीमियर लीग में 21 साल के नजमुल हुसैन शांतो ने सनसनी मचा रखी है. खुलना टाइगर्स और ढाका पलटन के बीच खेले गए मैच में नजमुल हुसैन ने नाबाद 115 रन की पारी खेली. उन्होंने महज 57 गेंदों में यह पारी खेली. इस पारी में नजमुल हुसैन ने 8 चौके और 7 छक्के लगाए. यानी नजमुल हुसैन ने 74 रन तो 15 गेंदों पर चौके-छक्कों की मदद से ही बना लिए.


नजमुल हुसैन ने 51 गेंदों में अपना शतक पूरा किया. ढाका पलटन की टीम ने पहले बल्लेबाजी करते हुए निर्धारित 20 ओवरों में 4 विकेट के नुकसान पर 205 रन बनाए. ढाका पलटन से मिले लक्ष्य को खुलना टाइगर्स की टीम ने 11 गेंद शेष रहते ही आठ विकेटों से जीत लिया.


बता दें कि ढाका पलटन की तरफ से मोमिनुल हक ने 59 गेंदों में 91 रन की पारी खेली. इस पारी में उन्होंने 7 चौके और 4 छक्के लगाए. जबकि मेहंदी हसन ने 36 गेंदों में नाबाद 68 रन बनाए. इस पारी में उनके बल्ले से तीन चौके और पांच छक्के निकले. नजमुल हुसैन ने 115 रन की नाबाद पारी खेलकर इस लीग में सबसे बड़ा स्कोर लगाने का रिकॉर्ड भी अपने नाम कर लिया है. बांग्लादेश प्रीमियर लीग में इससे पहले उनका बल्ला शांत था और इस वजह से उनकी काफी आलोचना भी हो रही थी.


बता दें कि इस पारी को खेलने से एक दिन पहले ही नजमुल हुसैन केवल 1 रन बनाकर आउट हो गए थे. इससे पहले टूर्नामेंट की आठ पारियों में नजमुल हुसैन ने केवल तीन बार दहाई का आंकड़ा छू पाया. हालांकि उन्होंने शानदार शतकीय पारी खेलकर सभी आलोचकों का मुंह बंद कर दिया और दिखा दिया कि उनमें कितनी प्रतिभा है.