वीरेंद्र सहवाग ने मैच में गाली देने वाले अंग्रेज विकेटकीपर की लगाई क्लास, कहा जिम्मेदार बनो

भारतीय टीम के पूर्व ओपनर बल्लेबाज वीरेंद्र सहवाग ने खिलाड़ियों को मैदान पर अपशब्द इस्तेमाल ना करने की सलाह दी. सहवाग ने कहा कि युवाओं के लिए अपशब्द कष्टप्रद है. जो आपको टीम के लिए खेलते हुए देख रहे हैं और जो आपका अनुसरण करते है.


हाल ही में कैपटाउन में इंग्लैंड और दक्षिण अफ्रीका के बीच टेस्ट मैच खेला गया था, जिसमें विकेटकीपर बल्लेबाज जोस बटलर ने फिलेंडर को गालियां दी. वीरेंद्र सहवाग ने जोस बटलर को इस हरकत के लिए फटकार लगाई और कहा कि बटलर एक बड़े खिलाड़ी हैं और उन्हें अनुशासन में रहना चाहिए. टेस्ट मैच के दौरान जोस बटलर ने फिलेंडर को अपशब्द कहे, जिस वजह से आईसीसी ने उनके ऊपर जुर्माना भी लगाया.


वीरेंद्र सहवाग ने कहा- आजकल के बच्चे पढ़ सकते हैं कि खिलाड़ी क्या कहता है. इसका समाधान नहीं है. शायद सीमाओं को परिभाषित करना और उनका पालन करना एक समाधान है. अपशब्दों का इस्तेमाल किए बिना भी टेस्ट क्रिकेट को रोमांचक बनाया जा सकता है. वीरेंद्र सहवाग ने यह भी बताया कि मैं पहली बार 2005-06 में नवाब पटौदी से मिला था.


मैंने उनसे पूछा था कि आपने मुझे खेलते हुए देखा है. मैं अपने खेल में सुधार कर सकता हूं. तो उन्होंने मुझसे सिर्फ यही कहा था कि जब आप बल्लेबाजी कर रहे होते हैं तो आप गेंद से दूर होते हैं. यदि आप पास रहेंगे तो आप आउट नहीं होंगे. वीरेंद्र सहवाग ने आगे कहा कि मैंने किसी की सलाह नहीं मानी. मैंने केवल नवाब पटौदी की सलाह मानी, जिसका असर यह हुआ कि मैंने टेस्ट क्रिकेट में काफी रन बनाए. इसका श्रेय मैं उन्हें ही देना चाहता हूं.

Post a Comment

0 Comments