चोट की वजह से एक समय क्रिकेट से दूर होने वाले मध्यप्रदेश के गेंदबाज रवि यादव ने अपना नाम रिकॉर्ड बुक में दर्ज करवा लिया है. रवि यादव अपने फर्स्ट क्लास क्रिकेट में डेब्यू के पहले ही ओवर में हैट्रिक लेने वाले विश्व के पहले गेंदबाज बन गए हैं. वह यूपी से ताल्लुक रखते हैं. लेकिन उन्होंने यह रिकॉर्ड यूपी के ही विरुद्ध बनाया है.


बता दें कि मौका ना मिलने की वजह से उन्होंने अपना राज्य छोड़ दिया था. इससे पहले साउथ अफ्रीका के राइस फिलिप्स के नाम फर्स्ट क्लास क्रिकेट के अपने पहले ओवर में हैट्रिक लेने का रिकॉर्ड था. रवि यादव डेब्यू मैच में हैट्रिक लेने वाले सात गेंदबाजों में शामिल हो गए जिनमें जवागल श्रीनाथ, सलिल अंकोला, अभिमन्यु मिथुन का नाम भी शामिल है.


रवि यादव ने क्रिकइंफो को दिए इंटरव्यू में कहा- मैच के बाद वह चैन की नींद लेंगे, क्योंकि अब वह जानते हैं कि वह फर्स्ट क्लास क्रिकेटर बन गए हैं. दरअसल 2010 से 2014 के बीच उन्हें खेल से दूर रहना पड़ा. उन्होंने सोचा भी नहीं था कि वह कभी फर्स्ट क्लास क्रिकेटर बन पाएंगे. रवि यादव यूपी में क्रिकेट खेलते हुए बड़े हुए. लेकिन उन्होंने यह रिकॉर्ड यूपी के ही विरुद्ध बनाया. उन्हें अंडर-19 के बाद कोई मौका नहीं मिला.


रवि यादव ने कहा कि अब वह बहुत खुश हैं कि उन्हें रणजी में खेलने का मौका मिला. रवि यादव लखनऊ के स्पोर्ट्स कॉलेज से है जहां से सुरेश रैना और आरपी सिंह जैसे क्रिकेटर निकले. रवि यादव ने बताया कि 2010 में उन्होंने सुरेश रैना को कई बार गेंदबाजी कराई थी. लेकिन अब शायद रैना भाई को यह याद भी नहीं होगा.